Breaking News
Home / राष्ट्रीय / सोनिया गांधी चाहती हैं, किसी और को अध्यक्ष चुने कांग्रेस

सोनिया गांधी चाहती हैं, किसी और को अध्यक्ष चुने कांग्रेस

नई दिल्ली (मा.स.स.). कांग्रेस में संगठन के स्तर पर आमूलचूल परिवर्तन और नेतृत्व बदलाव को लेकर पार्टी नेताओं के एक समूह की ओर लिखे गए लेटर का अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जवाब दिया है। 2019 लोकसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद अंतरिम अध्यक्ष चुनी गईं सोनिया गांधी ने कहा कि सभी मिलकर नए अध्यक्ष की तलाश करें क्योंकि वह वह आगे यह जिम्मेदारी नहीं संभालना चाहती हैं। इस मामले से जुड़े लोगों ने यह जानकारी दी है।

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर कहा कि 10 अगस्त को जब कांग्रेस वर्किंग कमिटी (CWC) की बैठक में नेताओं ने उनसे एक बार फिर अध्य़क्ष का पद संभालने की गुजारिश की तो उन्होंने कहा कि वह एक बार फिर पार्टी की अगुआई नहीं करना चाहती हैं। सोनिया गांधी ने इसी शर्त पर अंतरिम अध्यक्ष का पद स्वीकार किया था कि पार्टी जल्द ही पूर्णकालिक अध्यक्ष की तलाश कर लेगी। हालांकि, एक साल में पार्टी ऐसा नहीं कर पाई है।

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी के कम से कम 23 वरिष्ठ नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर संगठन में बदलाव की मांग की है। इंडियन एक्सप्रेस ने बताया कि पत्र के लेखकों में पूर्व मुख्यमंत्री जैसे भूपेंद्र सिंह हुड्डा और पृथ्वीराज चव्हाण, पूर्व मंत्री कपिल सिब्बल और शशि थरूर के साथ-साथ मिलिंद देवड़ा और जितिन प्रसाद जैसे युवा नेता शामिल हैं। अंतरिम अध्यक्ष को लिखे लेटर में कहा गया है कि पार्टी अपना आधार खो रही है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नेतृत्‍व पर सवाल खड़े करते हुए इन नेताओं ने एक ‘पूर्णकालिक और प्रभावी नेतृत्‍व’ की मांग की है जो न सिर्फ काम करता नजर आए, बल्कि असल में जमीन पर उतरकर काम करे भी। नेताओं ने सीडब्ल्यूसी चुनाव और पार्टी को फिर  खड़ा करने के लिए योजना बनाने की मांग है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आम चुनाव में पार्टी की हार की जिम्मेदारी लेते हुए अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था और उसके बाद सोनिया गांधी को दोबारा अध्यक्ष बनाया गया। अब दोबारा राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने की मांग जोर पकड़ रही है। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित कई लोगों ने पार्टी के मंच से कहा है के राहुल गांधी को दोबारा अध्यक्ष पद बनाने की मांग पार्टी के ज्यादातर नेताओं की भावनाओं के अनुकूल है। हालांकि, गैर गांधी को पार्टी का नेतृत्व सौंपने को लेकर भी चर्चा चल रही है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

कोरोना से ठीक हो चुके हैं देश में 90 प्रतिशत लोग

नई दिल्ली (मा.स.स.). देश में कोरोना वायरस के हालात में तेजी से सुधार हो रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *