सोमवार , सितम्बर 27 2021 | 06:50:38 PM
Breaking News
Home / अन्य समाचार / कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ी नीतीश राणा हुए कोरोना संक्रमित

कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ी नीतीश राणा हुए कोरोना संक्रमित

नई दिल्ली (मा.स.स.). इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) पर कोरोना का साया मंडराने लगा है। 14वां सीजन शुरू होने से 8 दिन पहले कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) टीम के प्लेयर नीतीश राणा के कोरोना संक्रमित होने की खबर है। सूत्रों की मानें तो राणा गोवा में छुट्टी मनाने के बाद टीम से जुड़े थे। दो दिन पहले ही उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई, लेकिन BCCI और KKR की ओर से अब तक कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।

सूत्रों के मुताबिक, नीतीश मुंबई स्थित टीम होटल में क्वारैंटाइन हैं। डॉक्टरों की टीम उनकी निगरानी कर रही है। IPL का 14वां सीजन 9 अप्रैल से शुरू होना है। फाइनल 30 मई को होगा। पहला मैच मुंबई इंडियंस (MI) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के बीच खेला जाना है। KKR का पहला मैच 11 मार्च को सनराइजर्स हैदराबाद के साथ है। नीतीश ने पिछले साल KKR के लिए 14 मैच में 25.14 की औसत से 254 रन बनाए हैं। उन्होंने IPL में अब तक खेले 60 मैच में 28.17 की औसत से 1437 रन बनाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 135.56 का रहा है।

हाल ही में हुए घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी में नीतीश 5वें टॉप स्कोरर रहे थे। उन्होंने दिल्ली की ओर से खेलते हुए 7 मैचों में 66.33 की औसत से 398 रन बनाए। एक सेंचुरी और दो हाफ सेंचुरी भी लगाई थीं। उनका स्ट्राइक रेट 97.78 का रहा। KKR टीम से लगभग सभी खिलाड़ी जुड़ चुके हैं। शुभमन गिल, कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी जैसे प्लेयर्स ने ट्रेनिंग करते हुए फोटो भी शेयर किए हैं। KKR के सोशल मीडिया साइट्स पर आंद्रे रसेल, कप्तान ओएन मोर्गन, दिनेश कार्तिक और सुनील नरेन भी प्रैक्टिस करते दिखे हैं, लेकिन राणा कहीं नजर नहीं आए।

जो खिलाड़ी इंग्लैंड सीरीज या कोई दूसरा टूर्नामेंट खेलने के बाद बायो-बबल से निकलकर IPL टीम के बायो-बबल में आते हैं। तो उन्हें सीधे ट्रेनिंग करने की अनुमति है। यदि कोई खिलाड़ी बायो-बबल से नहीं आता है, तो उसे टीम के बने बबल में आने के लिए 7 दिन क्वारैंटाइन रहना जरूरी होगा। इस दौरान उनके तीन टेस्ट होंगे। निगेटिव रिपोर्ट के बाद ही वे टीम के साथ बायो-बबल में एंट्री कर सकते हैं।

पिछला सीजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक UAE में बायो-सिक्योर माहौल में हुआ था। टूर्नामेंट शुरू होने से पहले चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) टीम के दीपक चाहर और ऋतुराज गायकवाड़ समेत 11 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। हालांकि, इसके बाद पूरे टूर्नामेंट में कोरोना का कोई मामला सामने नहीं आया था।

BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने बताया था IPL 2020 के लिए तैयार किए गए बायो-बबल में 400 खिलाड़ी और स्टाफ रुक रहे थे। ढाई महीनों में करीब 30 से 40 हजार टेस्ट कराए गए, ताकि सभी सुरक्षित रह सकें। गांगुली ने कहा था कि कोरोना के बीच टूर्नामेंट में दुनियाभर के खिलाड़ियों की भागीदारी के बाद भी हम सफलतापूर्वक इसका आयोजन करा सके, इससे मैं बहुत खुश हूं।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

कोरोना को देखते हुए उठी बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द करने की मांग

नई दिल्ली (मा.स.स.). देश में कोरोना महामारी तेजी से पैर पसार रही है। देश में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *