बुधवार , अक्टूबर 27 2021 | 12:33:46 PM
Breaking News
Home / राज्य / हरियाणा / युवक ने ही की थी माता-पिता सहित 4 परिवार के सदस्यों की हत्या

युवक ने ही की थी माता-पिता सहित 4 परिवार के सदस्यों की हत्या

चंडीगढ़ (मा.स.स.). हरियाणा के रोहतक में चार लोगों की हत्या का राज बुधवार को खुल गया। रोहतक के विजय नगर में छह दिन पहले परिवार के चार लोगों की हत्या प्रॉपर्टी डीलर बबलू पहलवान के बेटे 20 वर्षीय अभिषेक उर्फ मोनू ने ही की थी। पिता प्रदीप मलिक उर्फ बबलू पहलवान (45), मां बबली (40) व घर आई नानी रोशनी (60) निवासी सांपला व बहन 19 वर्षीय नेहा उर्फ तमन्ना के सिर में गोली मारी गई थी। हत्या करके होटल में अपने दोस्त के पास पहुंचा, वहां से खाना खाने ढाबे पर चला गया। पुलिस ने वारदात के पीछे प्रॉपर्टी विवाद भी एक वजह बताई है। अमर उजाला ने वारदात के पहले दिन ही प्रॉपर्टी विवाद की आशंका व्यक्त की थी।

पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने पत्रकारवार्ता में बताया कि जिस तरह से वारदात अंजाम दी गई, उससे लग रहा था कि किसी करीबी व्यक्ति ने ही परिवार के चार लोगों की हत्या की है। शक के दायरे में आए लोगों में प्रॉपर्टी डीलर का 20 वर्षीय बेटा अभिषेक उर्फ मोनू भी था। उससे सख्ती से पूछताछ की तो पता चला कि वह अपने पिता से नाराज चल रहा था। साथ ही वित्तीय वजह भी सामने आई है। परिवार के चार लोगों को गोली मारकर आरोपी ने दरवाजे बंद किए। इसके बाद लॉक लगाकर होटल में अपने दोस्त के पास चला गया। वहां से ढाबे पर खाना खाने गए लेकिन जांच में पता चला कि होटल में अभिषेक ने खाना नहीं खाया। इसके बाद घर के बाहर आकर उसने अपने मामा को फोन किया। बताया कि घर वाले फोन नहीं उठा रहे हैं। साथ ही छत के रास्ते मकान के ऊपर पहुंचा। शोर सुनकर आसपास के लोग भी आ गए।

एसपी ने बताया कि आरोपी अभिषेक को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। शक के दायरे में परिवार के कई और भी सदस्य व आरोपी के दोस्त हैं। पुलिस जल्द से जल्द सनसनीखेज हत्याकांड की जांच पूरी कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस चलाने की अदालत से मांग करेगी।फरवरी माह में जाट कॉलेज अखाड़े में भी पांच लोगों की हत्या कर दी गई थी। उसमें भी अखाड़े का कोच सुखविंद्र गिरफ्तार किया हुआ था। अब विजय नगर में चार लोगों की हत्या के मामले में प्रॉपर्टी डीलर का बेटा ही गिरफ्तार हुआ है। पुलिस के मुताबिक शुक्रवार को सांपला निवासी प्रवीण ने शिकायत में बताया था कि उसकी बड़ी बहन सन्तोष उर्फ बबली की करीब 21 वर्ष पहले प्रदीप उर्फ बबलू निवासी विजयनगर के साथ शादी हुई थी। उसका जीजा प्रॉपर्टी डीलर के तौर पर काम करता था। बहन का बेटा अभिषेक (20) व बेटी नेहा (19) है। दोपहर करीब 2 बजकर 19 मिनट पर वह प्रॉपर्टी डीलर कार्यालय के बाहर बैठा था। तभी भांजे अभिषेक का फोन आया। उसने कहा कि घर का दरवाजा बंद है।

मम्मी व पापा फोन नहीं उठा रहे हैं। न ही दरवाजा खोल रहे हैं। प्रवीण ने अभिषेक को कहा कि पड़ोस से किसी को बुलाकर गेट खुलवा लीजिए, वह जल्दी आ रहा है। प्रवीण का कहना है कि जब वह मौके पर पहुंचा तो एक मंजिला मकान के बाहर भीड़ जमा थी। नीचे वाले कमरे में जीजा प्रदीप उर्फ बबलू का शव चारपाई पर पड़ा था। सिर व मुंह से खून निकला हुआ था। साथ ही माथे पर गोली मारी गई थी। ऊपर गया तो कमरे में मां रोशनी देवी व बहन बबली का शव फर्श पर पड़ा था।

काफी मात्रा में खून बहकर बाहर दरवाजे तक आया हुआ था। पता चला कि भांजी नेहा को आस पड़ोस के लोग पीजीआई ले गए हैं। प्रवीण ने पुलिस को बताया कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने रंजिश रखते हुए उसके जीजा प्रदीप, बहन बबली व मां रोशनी की हत्या की है। जबकि भांजी की हत्या प्रयास किया गया है। बाद में नेहा ने भी दम तोड़ दिया था। पुलिस को जांच में घर के अंदर से 32 बोर की गोली के पांच खोल मिले हैं। इसमें बबलू, बबली, रोशनी व नेहा के सिर में गोली मारी गई थी।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

संयुक्त किसान मोर्चा के बयान पर हरियाणा के किसानों ने जताई नाराजगी

चंडीगढ़ (मा.स.स.). कुंडली बार्डर पर तड़के पंजाब के अनुसूचित जाति युवक लखबीर की नृशंस हत्या …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *