शुक्रवार , अप्रेल 16 2021 | 01:08:51 PM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / कोरोना से भाजपा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान की मौत, देश 140 जिले संवेदनशील

कोरोना से भाजपा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान की मौत, देश 140 जिले संवेदनशील

नई दिल्ली (मा.स.स.). मध्यप्रदेश के खंडवा से भाजपा के सांसद नंदकुमार सिंह चौहान का मंगलवार को निधन हो गया। कोरोना संक्रमित होने के बाद 5 फरवरी को उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। डॉक्टर्स के मुताबिक, संक्रमण उनके फेफड़ों तक फैल गया था। बाद में कोरोना रिपोर्ट निगेटिव भी आई, लेकिन उनकी तबियत में कोई सुधार नहीं हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत देश और प्रदेश के कई नेताओं ने चौहान के निधन पर शोक व्यक्त किया।

देश में कोरोना मरीजों की रफ्तार में लगातार तेजी देखने को मिल रही है। 22 राज्यों के 140 जिलों में कोरोना का ग्राफ ऊपर चढ़ा है। मतलब इन जिलों में कोरोना के मामलों में तेजी आई है। 10 दिन पहले यानी 22 जनवरी तक ऐसे 122 जिले थे। सबसे ज्यादा महाराष्ट्र के सभी 36 जिले प्रभावित हैं। इसके अलावा केरल के 9, तमिलनाडु के 7, पंजाब और गुजरात के 6-6 जिले इनमें शामिल हैं। इन जिलों में पिछले दो महीने के मुकाबले हर दिन कोरोना के ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं।

भारत में अभी 1.65 लाख एक्टिव केस हैं, यानी इतने मरीजों का इलाज चल रहा है। इस मामले में वह दुनिया में फिर एक बार 13वें नंबर पर पहुंच गया है। दो दिन पहले तक वह 15वें नंबर पर था। उसके 10 दिन पहले टॉप-15 संक्रमित देशों की सूची से बाहर हो गया था। इसी तरह हर दिन कोरोना मरीजों के मिलने के मामले में भी भारत अब 4-5वें नंबर पर आ गया है। देशभर में 11,563 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 11,990 लोग ठीक हुए और 80 की मौत हो गई। अब तक 1.11 करोड़ लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 1.07 करोड़ से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। 1.57 लाख मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 1.65 मरीजों का इलाज चल रहा है।

हिमाचल प्रदेश में धर्मशाला के ग्युटो मठ में सोमवार को 100 बौद्ध भिक्षु कोरोना संक्रमित पाए गए। अब तक इस मठ में कुल 156 भिक्षुओं की रिपोर्ट पॉजिटिव मिल चुकी है। कांगड़ा के CMO डॉ. गुरदर्शन गुप्ता ने बताया कि इतने सारे केसेस आने के बाद इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे फेज की सोमवार को शुरुआत होने के बाद सुप्रीम कोर्ट के जज और उनके परिवार के लोग मंगलवार से कोरोना का टीका लगवा सकेंगे। उन्हें अस्पताल या सुप्रीम कोर्ट की एनेक्सी बिल्डिंग में से किसी एक जगह वैक्सीन दी जाएगी। इसके साथ ही रिटायर्ड जजों और उनके फैमिली मेंबर्स को भी इसमें शामिल किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना का पहला टीका लगवा लिया है। उन्हें भारत बायोटेक की कोवैक्सिन का डोज दिया गया। वहीं, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी कोवैक्सिन का पहला डोज लगवा लिया है। महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 7 दिन के लिए कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है। यह 7 मार्च रात 12 बजे तक लागू रहेगा।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

केंद्र सरकार ने सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा स्थगित, 10वीं की रद्द

नई दिल्ली (मा.स.स.). भारत में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बेकाबू होते जा रही है। बीते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *