मंगलवार , नवम्बर 30 2021 | 06:15:39 AM
Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / दीदी को यह श्री राम से दिक्कत, वाराणसी में तो तिलक और चोटी वाले अधिक मिलेंगे : नरेंद्र मोदी

दीदी को यह श्री राम से दिक्कत, वाराणसी में तो तिलक और चोटी वाले अधिक मिलेंगे : नरेंद्र मोदी

कोलकाता (मा.स.स.). पश्चिम बंगाल में हुगली के बाद पीएम नरेंद्र मोदी सोनारपुर में जनसभा करने पहुंचे। यहां उन्‍होंने ममता बनर्जी के वाराणसी से चुनाव लड़ने संबंधी टीएमसी के बयान पर खूब शब्‍दबाण छोड़े। उन्‍होंने कहा कि ममता अगर बनारस से चुनाव लड़ेंगी तो उन्‍हें वहां तिलक वाले लोग बहुत मिलेंगे, चोटी वाले लोग भी बहुत मिलेंगे। यहां वह जय श्री राम के नारे से चिढ़ती हैं। वहां उनको हर-हर महादेव भी सुनने को मिलेगा। फिर वह क्‍या करेंगी?

मोदी ने कहा- ‘विधानसभा हारने के बाद लोकसभा चुनाव में जरूर हाथ आजमाइए दीदी। यहां हल्दिया से वाराणसी का जो वॉटरवे हमारी सरकार ने विकसित किया है, वो आपकी मदद करेगा।’ प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- ‘मैंने सुना है कि TMC में इन दिनों बहुत बड़ा मंथन चल रहा है। उनका कहना है कि ताव में आकर दीदी ने नंदीग्राम जाने का फैसला तो कर लिया, लेकिन ये उनकी बहुत बड़ी गलती साबित हुआ। नंदीग्राम में अपनी हार होते देख टीएमसी ने ये तय कर लिया था कि ममता दीदी को दूसरी सीट से भी लड़ाया जाए। लेकिन कुछ समझदार लोगों ने फिर दीदी को स्पष्ट कहा कि ये उनकी दूसरी बड़ी गलती होगी।

पीएम बोले- ‘दीदी की पार्टी अब कह रही है कि ममता अब वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। इससे दो बातें साफ होती हैं। एक तो दीदी ने बंगाल में अपनी पराजय स्वीकार कर ली है। दूसरा- दीदी अब बंगाल के बाहर अपने लिए जगह तलाश करने में जुट गई हैं। मेरी आपसे एक ही प्रार्थना है, बनारस के लोगों पर, यूपी के लोगों पर गुस्सा मत करिएगा दीदी। यूपी-बनारस के लोगों ने मुझे इतना प्यार दिया है, वो आपको भी बहुत स्नेह देंगे दीदी।

प्रधानमंत्री लगातार ममता बनर्जी पर तंज कसते रहे। उन्‍होंने कहा- ‘अच्छा है, विधानसभा हारने के बाद लोकसभा में जरूर हाथ आजमाइए दीदी। यहां हल्दिया से वाराणसी का जो वॉटरवे हमारी सरकार ने विकसित किया है, वो आपकी मदद करेगा। मैं आपको एक और बात कहूंगा। मेरे बनारस के लोग, यूपी के लोग इतने बड़े दिल वाले हैं कि आपको बाहरी नहीं कहेंगे, टूरिस्ट नहीं कहेंगे। उनका हृदय भी बंगाल के लोगों की तरह बहुत विशाल है।’

मोदी ने कहा- ‘दीदी, आप बंगाल की जनता पर विश्वास करिए। वो अपना निर्णय दे चुकी है। ये तय हो गया है कि आपको अब टाका-मार-कंपनी यानि टीएमसी सहित ‘नबन्ना’ छोड़कर जाना पड़ेगा।’ रैली में उपस्थित भीड़ से पीएम ने कहा कि सोनारपुर से कोलकाता बहुत दूर नहीं है। यहां का परिश्रमी मिडिल क्लास दिनभर दफ्तरों में, फैक्ट्रियों में काम करता है, व्यापार करता है। लेकिन टीएमसी के तोलाबाज, उसकी कमाई पर कट लगा देते हैं। टीएमसी के तोलाबाज गरीबों के पेट पर ही लात नहीं मारते बल्कि उनका राशन भी लूट लेते हैं।

पीएम बोले- ‘यहां आई बहनों-बेटियों को आज मैं एक और बात बताता हूं जिसे सुनकर वो हैरान रह जाएंगी। केंद्र सरकार, महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराधों की जल्द सुनवाई के लिए देश भर में एक हजार से ज्यादा फास्ट ट्रैक कोर्ट बनवा रही है। लेकिन यहां दीदी की सरकार ने इसकी स्वीकृति ही नहीं दी है।’

ममता सरकार पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा कि बीते सालों में जो ये निराशा यहां फैलाई गई है, उसी को आशा में बदलना ही तो आशोल पॉरिबोर्तोन है। कट मनी, बिचौलिए, करप्शन, इनको रोकने का एक बहुत सक्षम माध्यम है – डिजिटल इंडिया। इससे तृणमूल कांग्रेस को बहुत तकलीफ है। दीदी की सरकार का रिपोर्ट कार्ड, यहां की सड़कों पर दिखता है। राजधानी से सटा हुआ इलाका होने के बावजूद जाम और वॉटर लॉगिंग की समस्या यहां आम है। सड़कें पानी से भर जाती हैं, लेकिन घर में साफ पीने का पानी नहीं मिलता, क्योंकि टैंकर माफिया की यही मर्जी है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

बच गई ममता की कुर्सी, 30 सितंबर को होंगे उप चुनाव

कोलकाता (मा.स.स.). पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का विधानसभा पहुंचने का रास्ता साफ होता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *