मंगलवार , मई 18 2021 | 04:10:21 AM
Breaking News
Home / राज्य / दिल्ली / ममता और टीएमसी सांसद न भूले, वो भी दिल्ली आते हैं : परवेश साहिब सिंह

ममता और टीएमसी सांसद न भूले, वो भी दिल्ली आते हैं : परवेश साहिब सिंह

नई दिल्ली (मा.स.स.). बीजेपी सांसद परवेश साहिब सिंह ने आरोप लगाया है कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (TMC) की जीत के बाद पार्टी के ‘गुंडों’ ने बीजेपी कार्यकर्ताओं की पिटाई की है. उन्होंने नाराजगी जताते हुए प्रतिद्वंद्वी पार्टी तृणमूल कांग्रेस को चेतावनी दी है कि उसके सांसदों, मुख्यमंत्री और विधायकों को भी दिल्ली आना है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को निशाना बनाते हुए पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी सांसद ने ट्वीट किया, ‘टीएमसी के गुंडों ने चुनाव जीतते ही हमारे कार्यकर्ताओं को जान से मारा, बीजेपी कार्यकर्ताओं की गाड़ियाँ तोड़ीं, घर में आग लगा रहें हैं. याद रखना टीएमसी के सांसद , मुख्यमंत्री , विधायकों को दिल्ली में भी आना होगा, इसको चेतावनी समझ लेना. चुनाव में हार जीत होती है, मर्डर नहीं.’

पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम की घोषणा के एक दिन बाद पुरबा बर्धमान जिले में तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी समर्थकों के बीच हुई झड़प में कथित तौर पर चार लोगों की मौत हो गई. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया कि बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा मारे गए तीन लोग उसके समर्थक थे जबकि बीजेपी ने आरोपों को खारिज किया. रायना पुलिस थाना क्षेत्र में रविवार रात टीएमसी-बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच समसपुर में हुई झड़प में 55 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई. ओडिशापारा इलाके में झड़प के बाद स्थानीय सूत्रों ने बताया कि सभी घायलों को अलग-अलग अस्पताल ले जाया गया, जहां शाहजहां शाह, विभाष बाग और काकाली क्षेत्रपाल को मृत घोषित किया गया. पुलिस ने कहा कि इस घटना के संबंध में 23 लोगों को हिरासत में लिया गया है और इलाके में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

बीजेपी ने एक पार्टी कार्यालय में कथित आगजनी का वीडियो शेयर किया है जिसमें बांस की बल्लियां और छत जलती हुई नजर आ रही है और परेशान लोगों को चिल्लाते हुए भागते देखा जा सकता है. सोशल मीडिया पर मृत व्यक्तियों की तस्वीरें और एक दुकान से कपड़े लूट कर भागते लोगों की फुटेज वायरल हो रही है. बीजेपी ने कहा है कि उसके 6 कार्यकर्ताओं की मौत इन हमलों में हुई है.

वहीं राज्यपाल धनखड़ ने गृह सचिव एके द्विवेदी से मुलाकात के बाद ट्वीट किया, ‘राज्य में चुनाव के बाद हिंसा की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर मैंने एसीएस गृह को तलब किया था और उन्हें चुनाव बाद हुई राज्य में हुई हिंसा व तोड़फोड़ तथा उठाए गए कदमों पर रिपोर्ट देने को कहा गया है.’ एक प्रवक्ता ने कहा, ‘गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से राज्य में विपक्षी राजनीतिक कार्यकर्ताओं की निशाना बनाकर की जा रही हिंसा पर एक रिपोर्ट मांगी है.’

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

मायावती ने केजरीवाल पर लगाया फिर नाटक करने का आरोप

लखनऊ (मा.स.स.). बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *