मंगलवार , जनवरी 19 2021 | 11:07:23 AM
Breaking News
Home / व्यापार / कई भारतीय व्यापारियों को पसंद नहीं आई वॉट्सऐप की नई पालिसी, किया अनइनस्टॉल

कई भारतीय व्यापारियों को पसंद नहीं आई वॉट्सऐप की नई पालिसी, किया अनइनस्टॉल

मुंबई (मा.स.स.). लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप के खिलाफ दुनियाभर में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। इसकी वजह यह है कि वॉट्सऐप की नई पॉलिसी। इससे यूजर्स की निजी जानकारी को लेकर चिंता जताई जा रही है। भारत में भी कई कंपनियों और दिग्गज कॉरपोरेट हस्तियों ने वॉट्सऐप छोड़कर सिग्नल (Signal) जैसे दूसरे मैसेजिंग ऐप का रुख करना शुरू कर दिया है। इनमें नए दौर की स्टार्टअप कंपनियां और पुराने कॉरपोरेट तथा उनके सीनियर लीडर शामिल हैं। ये लोग अब अपने वर्क चैट और इंटरनल डॉक्युमेंट्स को शेयर करने के लिए सिग्नल का इस्तेमाल कर रहे हैं।

वॉट्सऐप ने हाल में पेमेंट्स सेक्टर में एंट्री की थी जिससे पेटीएम और फोनपे को खतरा पैदा हो गया है। अब ये दोनों कंपनियां इस विवाद का फायदा उठा रही हैं। उन्होंने अपनी टीम्स को वॉट्सऐप छोड़ने को कहा है। नवीन जिंदल की अगुवाई वाली कंपनी जिंदल स्टील एंड पावर भी वॉट्सऐप को बाय-बाय कह रही है। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने हाल में सिग्नल इनस्टॉल किया है। टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन पिछले कुछ समय से सिग्नल का इस्तेमाल कर रहे हैं। साथ ही ग्रुप के कई सीनियर अधिकारी भी इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहे हैं।

पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा कि उन्होंने अपनी टीम के सभी लोगों को वर्क कम्युनिकेशन के लिए वॉट्सऐप का इस्तेमाल नहीं करने को कहा है। फोनपे के को-फाउंडर समीर निगम के मुताबिक उनकी टीम के आधे सदस्य सिग्नल पर जा चुके हैं। दुनियाभर में वॉट्सऐप डाउनलोड की संख्या घटी है। 23 दिसंबर से 31 दिसंबर के बीच इसे 34 लाख बार डाउनलोड किया गया जबकि 1 से 9 जनवरी के बीच यह 30 लाख बार डाउनलोड हुआ जो सितंबर 2020 के बाद सबसे कम डाउनलोड है।

इस बीच दुनिया से सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने फेसबुक और इसके फाउंडर मार्क जकरबर्ग की मुश्किलें बढ़ा दी है। मस्क ने लोगों से वॉट्सऐप और फेसबुक छोड़कर मैसेजिंग ऐप सिग्नल (Signal) अपनाने की अपील की है। इसके बाद सिग्नल की लोकप्रियता अचानक बढ़ गई है। टेस्ला के फाउंडर ने लोगों से वॉट्सऐप और फेसबुक के बजाय ज्यादा एनक्रिप्टेड सुविधा वाले ऐप अपनाने को कहा है। जब उनके फॉलोअर्स ने सुरक्षित विकल्प के बारे में पूछा तो मस्क ने खासतौर पर सिग्नल का जिक्र किया।

कुछ प्राइवेसी एक्टिविस्ट्स ने वॉट्सऐप की पॉलिसी पर सवाल उठाए हैं और यूजर्स को सिग्नल और टेलीग्राम जैसे ऐप का रुख करने को कहा है। मस्क का साथ मिलने से सिग्नल की लोकप्रियता और बढ़ गई है। मस्क ट्विटर पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाली हस्तियों में शामिल हैं। इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली मस्क की कंपनी टेस्ला फेसबुक को पछाड़कर वॉल स्ट्रीट की पांचवीं सबसे मूल्यवान कंपनी बन चुकी है। उसका मार्केट कैप 800 अरब डॉलर के पार पहुंच चुका है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

एचडीएफसी बैंक को तीसरी तिमाही में हुआ 8,758.3 करोड़ रुपये का लाभ

मुंबई (मा.स.स.). वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही (Q3) में देश के सबसे बड़े प्राइवेट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *