शुक्रवार , जुलाई 30 2021 | 02:35:32 AM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / बसपा के 9 बागी विधायक सपा में हो सकते हैं शामिल

बसपा के 9 बागी विधायक सपा में हो सकते हैं शामिल

लखनऊ (मा.स.स.). बीएसपी से निकाले गए नौ विधायकों ने मंगलवार को समाजवादी पार्टी अध्‍यक्ष अखिलेश यादव से मुलकात की है। संभावना है कि ये समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। माना जाता है कि इन विधायकों और अखिलेश के बीच यूपी विधानसभा चुनावों की चर्चा हुई। जिन विधायकों ने अखिलेश से मुलाकात की उनमें असलम राइनी, असलीम अली चौधरी, मुजतबा सिद्दिकी, हाकिम लाल बिंद, हरगोविंद भार्गव, सुषमा पटेल, वंदना सिंह, रामवीर उपाध्‍याय और अनिल सिंह शामिल हैं। इन विधायकों को पिछले चार सालों में मायावती ने पार्टी से निष्‍कासित किया था। पिछले विधानसभा चुनावों के बाद से अब तक मायावती 11 एमएलए पार्टी से निकाल चुकी हैं।

हाल ही में मायावती ने बीएसपी के दो वर‍िष्‍ठ नेताओं- लालजी वर्मा और रामअचल राजभर को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में पार्टी से निकाला था। बीएसपी एक सीट उपचुनावों में हार चुकी है। इस तरह बीएसपी के पास अब कुल 7 विधायक रह गए हैं। साल 2017 में हुए पिछले विधानसभा चुनावों में बीएसपी ने 19 सीट जीती थीं। समाजवादी पार्टी को 47 सीटें मिली थीं। ऐसे में जब अगले विधानसभा चुनावों को एक साल भी नहीं रह गया, अगर ये एमएलए समाजवादी पार्टी का दामन थाम लेते हैं तो समाजवादी पार्टी की स्थिति और मजबूत हो जाएगी।इस समय अखिलेश यादव भी यूपी में बीजेपी के मुकाबले मुख्‍य विपक्षी दल के रूप में उभरने का सपना देख रहे हैं। अगर ये एमएलए समाजवादी पार्टी में शामिल हो जाते हैं तो उन्‍हें अपनी ताकत बढ़ाने में मदद मिलेगी।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

विहिप जनसंख्या नियंत्रण कानून के बाद अब कांवड़ यात्रा रद्द करने के निर्णय से भी असहमत

लखनऊ (मा.स.स.). उत्तराखंड के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने भी कोविड की तीसरी लहर के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *