गुरुवार , फ़रवरी 25 2021 | 09:12:38 PM
Breaking News
Home / राज्य / कर्नाटक / रूठों को मनाने अमित शाह कर्नाटक पहुंचे

रूठों को मनाने अमित शाह कर्नाटक पहुंचे

बेंगलुरु (मा.स.स.). केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शनिवार को दो दिवसीय कर्नाटक दौरे पर पहुंचे। बंगलुरु हवाई अड्डे पर पहुंचकर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने शाह का स्वागत किया। शाम को उन्होंने शिवमोगा जिले में रैपिड एक्शन फोर्स की एक नई बटालियन परिसर की आधारशिला रखी। शाह अपने कर्नाटक दौर के दौरान राज्य मंत्रिमंडल विस्तार से नाराज विधायकों को मनाने का काम करेंगे। वह बेलगावी जिले में एक रैली को संबोधित करेंगे व कई परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे।

शिवमोगा के कायर्क्रम में उन्होंने कहा, ‘आज मेरे लिए बहुत खुशी की बात है कि CRPF के रैपिड एक्शन फोर्स की 97वीं बटालियन का यहां शिलान्यास हो रहा है। 230 करोड़ की लागत से यहां निर्माण कार्य होगा। प्रशासनिक भवन, निवास केंद्र, अस्पताल, केंद्रीय स्कूल और खेल-कूद के स्टेडियम यहां खुलने जा रहे हैं।’ भद्रावती रैपिड एक्शन फोर्स सेंटर का भूमिपूजन भी किया। इस मौके पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुररपा भी मौजूद थे। बल के 97वें बटालियन के मुख्यालय के लिए कर्नाटक सरकार ने 50.29 एकड़ जमीन आवंटित की है।

उनका दूसरा कार्यक्रम बंगलुरु में निर्धारित है, जहां वह इमरजेंसी रेस्पॉन्स सपोर्ट सिस्टम को हरी झंडी दिखाएंगे। बंगलुरु में ही वह पुलिस गृह योजना का उद्घाटन करेंगे। इसी तरह अमित शाह रविवार को भी कर्नाटक में ही रहेंगे। वह बेलगावी जिले में एक एथेनॉल प्रोजेक्ट का उद्धाटन करेंगे। बेलगावी में ही वह एक अस्पताल का भी उद्घाटन करेंगे। इसके बाद बेलगावी में दोपहर बाद तीन बजे एक जनसभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा भी साथ रहेंगे।

इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने हैदराबाद निकाय चुनाव प्रचार के लिए दक्षिण भारत का दौरा किया था। बहरहाल, अमित शाह का कर्नाटक दौरा ऐसे समय हो रहा है, जब राज्य में बीएस येदियुरप्पा सरकार के कैबिनेट विस्तार को लेकर विवाद चल रहा है। मंत्रिमंडल विस्तार के खिलाफ कई विधायक बगावती तेवर अपना चुके हैं। अमित शाह अपने कर्नाटक दौर पर इन विधायकों को भी मनाने का काम करेंगे।

कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार के मंत्रिमंडल के विस्तार का विरोध खुद की पार्टी के ही विधायक कर रहे हैं। इन विधायकों का आरोप है कि जो भी पैसे देता है या ब्लैकमेल करता है उसे कैबिनेट में जगह मिल जाती है। विधायक एमपी रेणुकाचार्य तो इसकी शिकायत लेकर दिल्ली तक पहुंच गए। वह कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के राजनीतिक सचिव भी हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमित शाह कर्नाटक में भाजपा की कोर कमेटी के साथ बैठक करेंगे, जिसमें इस मसले को सुलझाने की कोशिश की जाएगी।

बता दें कि कर्नाटक सरकार ने बुधवार को मंत्रिमंडल का विस्तार किया। कर्नाटक कैबिनेट में मुख्यमंत्री समेत 27 मंत्री थे। मंत्रिमंडल में सात सदस्यों की जगह खाली थी, जिन्हें भरा गया है। नए मंत्रियों में एमटीबी नागराज, उमेश कट्टी, अरविंद लिम्बावली, मुरुगेश निरानी, आर शंकर, सीपी योगीश्वर, अंगारा एस का नाम शामिल है। कर्नाटक में मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अंदर घमासान जारी है। इस मंत्रिमंडल विस्तार से कई भाजपा नेता नाराज हैं।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या ने एरो इंडिया शो में उड़ाया तेजस विमान

बेंगलुरु (मा.स.स.). भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद तेजस्वी सूर्या ने गुरुवार को कर्नाटक के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *