बुधवार , दिसम्बर 08 2021 | 12:14:57 PM
Home / राज्य / दिल्ली / एम्स में उड़ाया गया रामायण के पत्रों का मजाक, उठी गिरफ्तारी की मांग

एम्स में उड़ाया गया रामायण के पत्रों का मजाक, उठी गिरफ्तारी की मांग

नई दिल्ली (मा.स.स.). दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के कुछ छात्रों द्वारा रामलीला मंचन करना अब विवादों में घिर गया है। इन छात्रों पर कथित तौर पर अभद्रता करने और रामायण के किरदारों का मजाक उड़ाने का आरोप है। इसे लेकर जहां सोशल मीडिया में इनकी जमकर खिंचाई की जा रही है, वहीं इनकी गिरफ्तारी की मांग भी जोर पकड़ने लगी है।

एम्स के कुछ छात्रों द्वारा किए गए रामलीला मंचन की वीडियो क्लिप सोशल मीडिया में वायरल हो रही हैं। इस पर एम्स स्टूडेंट एसोसिएशन ने रविवार को एक बयान जारी कर कहा कि छात्रों की ओर से हम इस नाटक के संचालन के लिए क्षमा चाहते हैं, जिसका उद्देश्य किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि भविष्य में ऐसी कोई गतिविधि न हो।

बता दें कि रामलीला नाटक के दौरान राम-लक्ष्मण और शूर्पणखा के संवाद वाली यह वीडियो क्लिप जैसी ही सोशल मीडिया पर वायरल हुई, उसे देखकर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। इसके बाद तो #ArrestAIIMSCulprits और #AntiHinduUnacademy जैसे हैशटैग ट्विटर पर दिनभर ट्रेंडिंग में बने रहे। सोशल मीडिया पर पर चल रही इन खबरों में बताया जा रहा है कि इस नाटक का मंचन शोएब आफताब नाम के छात्र द्वारा किया गया था, जिसने जान-बूझकर हिन्दू धर्म की आस्था का मजाक उड़ाते हुए अपमान किया है।

नैनी सुबा ने ट्विटर पर लिखा, ”आप बेशर्म जीव हमेशा हमारे हिंदू धर्म और हिंदू देवताओं को निशाना बनाते हैं और उनका मजाक उड़ाते हैं? आप इसे किसी अन्य धर्म के साथ क्यों नहीं करते? क्या यह इसलिए है क्योंकि आपको लगता है कि हिंदुओं को निशाना बना आसान है? अब और नहीं! अब इसे रोक दें!” गौरव गोयल नाम के एक भाजपा नेता और वकील ने इस संबंध में दुर्भावनापूर्ण और जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को भड़काने के लिए अनएकेडमी ग्रुप के फाउंडर गौरव मुंजाल, को-फाउंडर रोमन सैनी और अन्य के खिलाफ आपराधिक शिकायत दर्ज कराने की बात कही है।

वहीं, टीम इमोर्टल नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, ”शोएब आफताब को इतने जूते मारे जाने चाहिए कि इस जिहादी की अकल ठिकाने आ जाए। ये हरकतें बर्दाश्त नहीं की जा सकतीं। मजेदार लीला कर लो अपने कम्युनिटी पे भी। बहुत मिलेगा, @aiims_nd हम मोहम्मद पर भी फनी और क्रिएटिव एक्टिंग की उम्मीद करते हैं।” निखत नाम की ट्विटर यूजर ने लिखा, ”मैं भी एक डॉक्टर हूं, लेकिन मुझे इस बात पर शर्म आती है। जिन लोगों ने यह घिनौनी बकवास की है उन्हें दंडित किया जाना चाहिए और उनके कॉलेज से प्रतिबंधित कर दिया जाना चाहिए।”

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

नरेंद्र मोदी ने एसआईएस के सुरक्षाकर्मी का बढ़ाया हौसला

नई दिल्ली (मा.स.स.). देश ने गुरुवार को कोरोना वैक्सीन के 100 करोड़ डोज का आंकड़ा पूरा कर इतिहास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *