मंगलवार , मई 18 2021 | 04:21:08 AM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / वायुसेना लगातार ऑक्सीजन कंटेनर कर रही है एयरलिफ्ट, स्वास्थ्यकर्मियों को भी पहुंचाया

वायुसेना लगातार ऑक्सीजन कंटेनर कर रही है एयरलिफ्ट, स्वास्थ्यकर्मियों को भी पहुंचाया

नई दिल्ली (मा.स.स.). देश को कोरोना वायरस और ऑक्सीजन संकट से उतारने के लिए भारतीय वायुसेना ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. गुरुवार को वायुसेना ने तीन खाली ऑक्सीजन कंटेनर को एयरलिफ्ट कर पश्चिम बंगाल के पानागढ़ पहुंचाया. यहां से इन्हें भरने के बाद ऑक्सीजन की कमी का सामना कर रहे देश के अलग-अलग राज्यों में भेजा जाएगा. इस बात की जानकारी भारतीय वायुसेना के अधिकारी ने दी है. ‘दूसरी लहर’ में बढ़ते कोविड संक्रमण के मामलों के बाद देश के कई अस्पतालों से ऑक्सीजन खत्म होने की खबरें आई थीं.

अधिकारी ने बताया कि वायुसेना ने इस काम में C-17 Il-76 हैवी लिफ्ट एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल किया है. इसके अलावा वायुसेना ने कोविड टेस्टिंग सेट अप को भी लेह तक पहुंचाया. हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट में बताया गया था कि वायुसेना ने स्वास्थ्यकर्मियों, ऑक्सीजन कंटेनर, ऑक्सीजन सिलेंडर, ट्रॉली और अन्य मेडिकल उपयोगी चीजों को एयरलिफ्ट करने के लिए अपने एयरक्राफ्ट को तैनात किया है. राजधानी दिल्ली में DRDO अस्पताल तैयार करने के लिए कोच्चि, मुंबई, विजाग और बेंगलुरु से डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ को एयरलिफ्ट किया गया है. वहीं, DRDO के ऑक्सीजन कंटेनर को भी बेंगलुरु से एयरलिफ्ट कर दिल्ली के कोविड केंद्रों के लिए ले जाया गया है. देश में बिगड़ती स्वास्थ्य व्यवस्था के बीच रक्षा मंत्रालय ने सेना के जवानों को मदद करने के लिए कहा गया है.

कोविड-19 राहत कार्य के लिए सशस्त्र बल, DRDO और DPSU लगातार काम कर रहे हैं. सुरक्षा क्षेत्र के लिए काम करने वाले जवान कोविड अस्पताल तैयार करने से लेकर ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने, मेडिकल स्टाफ और ऑक्सीजन कंटेनर को एयरलिफ्ट करने का काम कर रहे हैं. देश में ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए सरकार ने ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ चलाने का फैसला किया है. गुरुवार शाम पहली रेल विशाखापट्टनम से महाराष्ट्र के लिए निकली. देश में गुरुवार को भी 3 लाख से ज्यादा कोरोना वायरस संक्रमण के मामले दर्ज किए गए हैं.

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

मनुष्य के साहस व संकल्प के सामने बड़े-बड़े पर्वत तक टिक नहीं पाते : साध्वी ऋतम्भरा

नई दिल्ली (मा.स.स.). ‘हम जीतेंगे-पाज़िटीविटी अनलिमिटेड’ श्रृंखला के चौथे दिन श्री पंचायती अखाड़ा – निर्मल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *