रविवार , मई 16 2021 | 04:34:55 AM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / कोविड और ऑक्सीजन से जुड़े उत्पादों से 3 माह के लिए हटाई कस्टम ड्यूटी

कोविड और ऑक्सीजन से जुड़े उत्पादों से 3 माह के लिए हटाई कस्टम ड्यूटी

नई दिल्ली (मा.स.स.). देश में कोविड के बढ़ते मामले सभी के लिए चिंता का विषय बन चुके हैं। हालात को देखते हुए सरकार ने शनिवार को कोविड वैक्सीन्स, ऑक्सिजन और ऑक्सिजन सबंधी इक्विपमेंट के आयात पर बेसिक कस्टम और ड्यूटी हेल्थ सेस से छूट देने का फैसला किया है। हालांकि यह छूट केवल तीन माह के लिए होगी। सरकार ने भारत में इन प्राॅडक्ट्स की उपलब्धता बढ़ाने के लिए यह फैसला किया है।

कोविड वैक्सीन्स, ऑक्सिजन और ऑक्सिजन सबंधी इक्विपमेंट पर बेसिक कस्टम ड्यूटी से तीन माह तक छूट देने का फैसला, देश में ऑक्सिजन की आपूर्ति बढ़ाने के उपायों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में लिया गया। सरकार ने एक बयान जारी कर कहा कि पीएम मोदी ने देश में मेडिकल ग्रेड ऑक्सिजन की सप्लाई और अस्पतालों व घरों दोनों में मरीज की देखभाल के लिए जरूरी इक्विपमेंट बढ़ाने की तत्काल जरूरत पर जोर दिया।

केंद्र सरकार ने जिन चीजों के आयात पर तीन माह तक के लिए कस्टम ड्यूटी पर छूट दी है, उनमें कोविड वैक्सीन, मेडिकल ग्रेड ऑक्सिजन,  फ्लो मीटर, रेगुलेटर, कंसन्ट्रेटर्स और ट्यूबिंग के साथ ऑक्सिजन कंसन्ट्रेटर, वैक्यूम प्रेशर स्विंग एब्जाॅप्र्शन और प्रेशर स्विंग एब्जाॅप्र्शन ऑक्सिजन प्लांट्स, लिक्विड/गैसियस आॅक्सिजन उत्पादित करने वाली क्रायोजेनिक ऑक्सिजन एयर सैपरेशन यूनिट्स, ऑक्सिजन कैनिस्टर, ऑक्सिजन फिलिंग सिस्टम्स, ऑक्सिजन स्टोरेज टैंक्स, ऑक्सिजन सिलेंडर्स, ऑक्सिजन जनरेटर्स, ऑक्सिजन की शिपिंग के लिए आईएसओ कंटेनर्स, ऑक्सिजन के लिए क्रायोजेनिक रोड ट्रान्सपोर्ट टैंक्स, ऑक्सिजन के प्राॅडक्शन, ट्रान्सपोर्टेशन, डिस्ट्रीब्यूशन या स्टोरेज के लिए इक्विपमेंट्स बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले पार्ट्स, ऑक्सिजन जनरेट करने वाली कोई भी अन्य डिवाइस, नेसल कैनुला के साथ वेंटिलेटर्स, सभी एक्सेसरीज व ट्यूबिंग के साथ कंप्रेशर्स, ह्यूमिडिफियर्स और वायरल फिल्टर्स, सभी अटैचमेंट्स के साथ हाई फ्लो नेजल कैनुला डिवाइस, नाॅन इनवेसिव वेंटिलेशन के साथ इस्तेमाल के लिए हेलमेट्स, आईसीयू वेंटिलेटर्स के लिए नाॅन इनवेसिव वेंटिलेशन ओरोनेजल मास्क, आईसीयू वेंटिलेटर्स के लिए नाॅन इनवेसिव वेंटिलेशन नेजल मास्क शामिल हैं।

बयान में आगे कहा गया कि पीएम मोदी ने यह भी कहा है कि सभी मंत्रालयों और विभागों को एक साथ मिलकर देश में ऑक्सिजन और मेडिकल सप्लाई बढ़ाने के लिए काम करने की जरूरत है। बैठक के दौरान पीएम मोदी ने राजस्व विभाग को निर्देश दिया है कि विभाग कोविड वैक्सीन्स, ऑक्सिजन और ऑक्सिजन सबंधी इक्विपमेंट का अवरोध रहित और जल्द कस्टम क्लियरेंस सुनिश्चित करे।

भारत में इस वक्त ऑक्सिजन की बेहद ज्यादा किल्लत चल रही है। दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश समेत कई जगहों पर हाॅस्पिटल्स में मरीजों को ऑक्सिजन मुहैया नहीं हो पा रही है। जो मरीज घर पर आइसोलेट हैं, उनके लिए भी ऑक्सिजन सिलेंडरों की कमी है। यहां तक कि अब ऑक्सिजन कसन्ट्रेटर की भी कमी पैदा हो रही है। ऑक्सिजन की कमी की वजह से कई मरीजों को जान गंवानी पड़ी है और कइयों के जीवन पर संकट छाया हुआ है। देश के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सिजन की कमी को दूर करने के लिए सरकार ने कोशिशें तेज कर दी हैं। राज्यों को ऑक्सिजन की सप्लाई के लिए विशेष ऑक्सिजन एक्सप्रेस ट्रेन चलाई गई है। इस बीच इंडियन एयरफोर्स के प्लेन्स को क्रायोजेनिक ऑक्सिजन टैंक लाने के लिए सिंगापुर भेजा गया है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

मोदी ने किसान निधि की किस्त देते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना पर जताई चिंता

नई दिल्ली (मा.स.स.). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को किसान सम्मान निधि स्कीम की 8वीं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *