बुधवार , अक्टूबर 27 2021 | 12:30:33 PM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / मोदी सरकार इंसानियत के नाते बिना वीजा अफगानी बच्चे को लाई भारत

मोदी सरकार इंसानियत के नाते बिना वीजा अफगानी बच्चे को लाई भारत

नई दिल्ली (मा.स.स.). वायुसेना के विमान से सुबह भारत आए 168 लोगों में एक ऐसा बच्चा भी शामिल है, जिसे बिना पासपोर्ट के लाया गया। हिंडन एयरपोर्ट पहुंचने के बाद बच्चे का वीडियो सामने आया है, जिसमें एक बच्ची उसे प्यार करते हुए नजर नजर आ रही है। इस दौरान बच्ची बेहद खुश नजर आई। अपनी मां की गोद में बैठा मासूम भी किलकारियां भर रहा है। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। लोग इसे खूब पसंद कर रहे हैं।

हिंडन एयरबेस पर उतरे अफगानी नागरिक किरपाल सिंह ने बताया कि उनके साढ़े तीन महीने के बच्चे इकनूर का पासपोर्ट नहीं था। लेकिन भारत सरकार के अधिकारियों ने रोक नहीं लगाई। मौके पर मौजूद एक निकासी समन्वय अधिकारी ने बताया कि हां, भारतीय वायुसेना के सी-17 विमान से एक नन्हा बच्चा भी आया है। मासूम का स्वास्थ्य ठीक है फिर भी जांच कराई जाएगी। टि्वटर पर एक यूजर ने जहां तालिबान की बर्बरता को लेकर उसे कोसा वहीं, बच्चे को भारत लाने के लिए केंद्र सरकार और भारतीय वायुसेना का धन्यवाद किया। दूसरी ओर, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता द्वारा ट्वीट की गई तस्वीर में दो महिलाएं बच्चों को गोद में लिए हुए दिखाई दे रही हैं। यह तस्वीर काबुल एयपोर्ट की है, जहां वे विमान में सवार होने के लिए कतार में खड़ी हैं।

मालूम हो कि इस विमान में भारत आने वालों में 107 भारतीयों के साथ 23 अफगानिस्तान के सिख और हिंदू भी शामिल हैं। अफगानिस्तान में तालिबानियों के डर से लोग देश छोड़ रहे हैं। हिंडन एयरफोर्स स्टेशन पर भारतीय वायुसेना के विशेष विमान से पहुंचे लोगों ने अपनी आपबीती सुनाई तो अधिकांश की आंखें छलक पड़ीं। लोगों का कहना है पीढ़ियों से रहने के बावजूद महज आठ दिन में उनकी हालत दोयम दर्जे की हो गई। देश में कई जगहों पर मारकाट व चीख पुकार के बीच लोग घर-बार छोड़कर जान बचाने के लिए सीधे काबुल एयरपोर्ट की तरफ भाग रहे हैं। तालिबानी लड़ाके अफगानी नागरिकों को एयरपोर्ट जाने से रोक रहे हैं जबकि पासपोर्ट देखने के बाद विदेशी नागरिकों को जाने दे रहे।

जान बचाकर भारत आए अफगानी सहित भारतीय नागरिकों ने हिंडन एयरबेस पर पहुंचते ही भारत माता की जय के जयकारे लगाए। मीडिया को देखते ही अफगानिस्तान से आए भारतीय और भारतीय मूल के अफगानी लोगों ने कई बार नारेबाजी की। इस दौरान लोगों ने कहा बुरे समय में भारत उनके साथ खड़ा मिला, इसे कभी नहीं भूलेंगे।

परिवार की जान बचाने के लिए पत्नी और मां के साथ भारत आए हैं। देश में तालिबान की स्थिति मजबूत होने के बाद वहां रहना मुश्किल है। देश के बारे में बहुत कुछ कहना चाहता हूं। स्थिति खराब है। दुनिया हमारे लोगों को बचा ले यही दुआ है।
मजीद, जलालाबाद

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

आमिर खान ने की सड़क पर पटाखे न जलाने की अपील, भाजपा सांसद ने जताई आपत्ति

बेंगलुरु (मा.स.स.). एक क्लोदिंग ब्रैंड के फेस्टिव कलेक्शन की लाइन को लेकर विवाद थमा नहीं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *