शुक्रवार , अप्रेल 16 2021 | 12:28:45 PM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / कॉलेज जा रही छात्रा पर धर्मांतरण के लिए दबाव बनाने वाले की भीड़ ने की पिटाई

कॉलेज जा रही छात्रा पर धर्मांतरण के लिए दबाव बनाने वाले की भीड़ ने की पिटाई

लखनऊ (मा.स.स.). बरेली में कॉलेज जा रही 10वीं की छात्रा को रास्ते में दबोचकर दूसरे समुदाय के दबंग युवक ने गन्ने के खेत में घसीटने की कोशिश की। चीख सुनकर पहुंचे किसानों ने छात्रा को शोहदे के चंगुल से छुड़ाया। भीड़ ने शोहदे की धुनाई लगाकर पुलिस को सौंप दिया। आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने जब छात्रा के परिजन दियोरनिया चौकी पहुंचे तो पुलिस ने उल्टा उन्हें ही मारपीट कर थाने में बंद कर दिया। पुलिसिया कार्रवाई से भड़के हिंदू संगठनों ने थाने का घेराव कर चौकी के आरोपी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने की मांग की। इसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा किया। घटना के बाद इलाके में तनाव व्याप्त है।

कैंट के एक गांव की 16 वर्षीय किशोरी फरीदपुर की दियोरनिया चौकी के इंटर कॉलेज में 10वीं की छात्रा है।  पीड़िता के मुताबिक वह कॉलेज जा रही थी। सिमराबोरीपुर गांव की बाजार के सामने बुखारा रोड पर छात्रा के पड़ोस के आरिफ ने उसे पकड़ लिया। छात्रा चिल्लाई तो शोहदा उसे सड़क किनारे गन्ने के खेत में घसीटकर ले जाने लगा। चीखें सुनकर खेतों पर काम कर रहे किसान मौके पर पहुंचे। उन्होंने छात्रा को छुड़ाकर शोहदे को पकड़कर जमकर पीटा। सूचना मिलते ही परिवार के लोग पहुंचे और पुलिस को बुलाया। पुलिस ने घायल आरोपी को बरेली के निजी अस्पताल भेजा।

इसके बाद छात्रा के परिवार वाले आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने दियोरनिया चौकी पहुंचे तो आरोप है कि चौकी के सिपाहियों ने छात्रा के पिता और बाबा की पिटाई कर दी और थाने में बंद कर दिया। छात्रा ने पुलिस के रवैए की शिकायत हिंदू संगठनों से की। तमाम हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे। उन्होंने थाने का घेराव कर हंगामा किया। पुलिस ने आरोपी आरिफ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छात्रा के पिता और बाबा को तत्काल छोड़ दिया। दियोरनिया चौकी इंचार्ज अमित कुमार ने बताया कि आरोपी को लोग बेरहमी से पीट रहे थे। उसे छुड़वाने को लोगों को हटाया था। छात्रा के परिजनों के साथ मारपीट करने का आरोप निराधार है।

छात्रा ने बताया कि एक महीने से आरिफ उसका पीछा कर रहा था। आरिफ ने कई बार अश्लील कमेंट किए। धर्मांतरण कराने का भी प्रस्ताव रखा। छात्रा पढ़ाई छूटने के डर से शांत रही। वहीं हिंदू जागरण मंच के जिला अध्यक्ष अरुण फौजी, जिला महामंत्री जगदीश पाराशरी ने बताया कि दियोरनिया चौकी के सिपाही आरोपी से मिले हुए हैं। दूसरे समुदाय का आरोपी छात्रा से धर्मांतरण कराने का दबाव बनाकर सरेआम छेड़खानी कर रहा था। इस दौरान हिंदू जागरण मंच के जिला मंत्री जितेंद्र चौहान, हर्ष भारद्वाज, बृजेश चौधरी, मनोज गुप्ता, मीना शर्मा आदि थे।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

योगी आदित्यनाथ हुए आइसोलेट, फिलहाल कोरोना के लक्षण नहीं

लखनऊ (मा.स.स.). कोरोना वायरस एक बार फिर तेजी से पैर पसार रहा है. पिछले कुछ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *