रविवार , अप्रेल 18 2021 | 01:22:44 PM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / असीम अरुण बने कानपुर के पहले कमिश्नर, योगी सरकार ने 43 आईपीएस अधिकारीयों का किया तबादला

असीम अरुण बने कानपुर के पहले कमिश्नर, योगी सरकार ने 43 आईपीएस अधिकारीयों का किया तबादला

लखनऊ (मा.स.स.). उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था को बेहद मजबूत करने के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने गुरुवार को कानपुर तथा वाराणसी में पुलिस कमिशनर प्रणाली लागू करने का फैसला किया। इसी क्रम में शुक्रवार को एडीजी असीम अरुण को कानपुर तथा ए सतीश गणेश को वाराणसी का पुलिस कमिशनर बनाया गया है। इसके साथ ही 16 आइपीएस अफसरों का तबादला किया गया है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने वाराणसी और कानपुर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू कर दी है।

डायल 112 के एडीजी असीम अरुण को कानपुर और आगरा जोन में एडीजी रहे ए सतीश गणेश को वाराणसी का पुलिस कमिशनर बनाया गया है। इसके साथ ही 43 आइपीएस अधिकारियों की तबादला सूची जारी की गई है। पीपीएस अफसरों के बाद प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को कुल 43 आइपीएस अफसरों का तबादला। किया है। इसमें 15 जिलों के एसपी भी बदले गए हैं। असीम अरुण को कानपुर तथा ए सतीश गणेश को वाराणसी के पुलिस कमिशनर के पद पर तैनाती मिली है। वाराणसी के एसएसपी अमित पाठक को गाजियाबाद भेजा गया है। इसके साथ ही अखिलेश कुमार मीणा व अनिल सिंह को वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट में तैनाती मिली है।

मनोज कुमार और आकाश कुलहरि को कानपुर में अपर पुलिस आयुक्त के पद पर तैनात किया गया है। पीयूष मोर्डिया लखनऊ, पुलिस कमिश्नरेट में संयुक्त पुलिस आयुक्त बने जबकि डीआईजी रेलवे पुष्पांजलि को नोएडा पुलिस कमिश्नरेट में भेजा गया है। अशोक कुमार सिंह को एडीजी ट्रैफिक व सड़क सुरक्षा से एडीजी यूपी 112, वीएस मीणा को एडीजी वाराणसी से एडीजी सतर्कता अधिष्ठान, ज्योति नारायण को एडीजी लॉ एंड ऑडर से एडीजी ट्रैफिक-रोड सेफ्टी, रमित शर्मा को आइजी मुरादाबाद से आइजी बरेली, मोदक राजेश डी राव को आइजी गोरखपुर से आइजी ला एंड ऑर्डर लखनऊ, एके भगत को आइजी सतर्कता अधिष्ठान लखनऊ से आइजी वाराणसी, राजेश कुमार पाण्डेय को आइजी बरेली से आइजी चुनाव प्रकोष्ठ लखनऊ, सुभाष सिंह बघेल को आइजी झांसी से आइजी डीजी ऑफिस लखनऊ तथा पीयूष श्रीवास्तव को आइजी मिर्जापुर को आइजी डीजी आफिस के पद पर तैनात किया गया है। ज्वाइंट कमिश्नर लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट नवीन अरोड़ा को आइजी आगरा रेंज के पद पर तैनात किया गया है।

डीआइजी दीपक कुमार को अयोध्या से अलीगढ़, डीआइजी जे रविंद्र गौड़ को एसआइटी लखनऊ से मिर्जापुर, डीआइजी जोगेन्द्र कुमार को गोरखपुर से झांसी, डीआइजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह को कानपुर से गोरखपुर, डीआइजी शलभ माथुर को एसआइटी लखनऊ से मुरादाबाद रेंज, डीआइजी विनोद कुमार सिंह को कुशीनगर से सुरक्षा मुख्यालय, डीआइजी यूपी 112 अरुण कुमार को कानपुर, डीआइजी ए सतीश गणेश को वाराणसी, डीआइजी पीयूष मोर्डिया को अलीगढ़ से संयुक्त आयुक्त कानपुर, डीआइजी पीएसी लखनऊ आकाश कुलहरि को संयुक्त आयुक्त कानपुर, डीआइजी जेल अखिलेश कुमार सिंह को अपर आयुक्त वाराणसी तथा डीआइजी एससीआरबी लखनऊ अनिल कुमार सिंह को अपर आयुक्त वाराणसी के पद पर तैनात किया गया है।

एसएसपी राठौर किरीट के हरिभाई को एसआइी लखनऊ से पीलीभीत, सुजाता सिंह को सेनानायक 32वीं वाहिनी पीएसी लखनऊ से बहराइच, एसएसपी आजमगढ़ बबलू कुमार को एटीएस लखनऊ, मुनिराज जी को अलीगढ़ से एसएसपी आगरा, कला निधि नैथानी गाजियाबाद से एसएसपी अलीगढ़, रोहन पी कनय सेनानायक 11वीं वाहिनी पीएसी सीतापुर से एसएसपी झांसी, सचींद्र पटेल को एसपी एटीएस लखनऊ से कुशीनगर, संतोष कुमार मिश्रा को एसपी डीजीपी मुख्यालय से गोंडा, शैलेश पाण्डेय को गोंडा से एसएसपी अयोध्या, बृजेश कुमार सिंह को एसपी रेलवे गोरखपुर से एसएसपी इटावा, आकाश तोमर को इटावा ने एसएसपी प्रतापगढ़ तथा दिनेश कुमार पी को एसएसपी गोरखपुर के पद पर तैनात किया गया है।

कानपुर तथा वाराणसी को अब दो-दो हिस्सों में बांटा गया है। वाराणसी में वाराणसी नगर और ग्रामीण और कानपुर में कानपुर नगर व कानपुर आउटर के रूप में बांटा गया है। दोनों जिलों में पुलिस कमिश्नर की तैनाती की गई है। वाराणसी नगर में पुलिस कमिश्नर और ग्रामीण में एसपी को कमान सौंपी जाएगी। इसी तरह कानपुर नगर में पुलिस कमिश्नर और कानपुर आउटर में एसपी को जिम्मेदारी दी गई है। इन दोनों जिलों में जिलाधिकारी का दखल ग्रामीण क्षेत्रों में ही रहेगा। कमिश्नरेट में कानून व्यवस्था में जिलाधिकारी का दखल नहीं रहेगा। उत्तर प्रदेश सरकार ने नोएडा और लखनऊ के बाद दो बड़े शहरों में वाराणसी और कानपुर में भी कमिश्नर प्रणाली लागू कर दी है। कैबिनेट से प्रस्ताव पास होने के बाद इस पर नोटिफिकेशन भी जारी हो गया है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाला खुद भी निकला कोरोना संक्रमित

कानपुर (मा.स.स.). मिलिट्री इंटेलीजेंस के इनपुट यूपी एसटीएफ कानपुर इकाई और बाबूपुरवा पुलिस ने तीन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *