शुक्रवार , अप्रेल 16 2021 | 02:13:57 PM
Breaking News
Home / राज्य / गुजरात / पति आरिफ खान के दहेज उत्पीड़न से परेशान होकर आयशा ने की आत्महत्या

पति आरिफ खान के दहेज उत्पीड़न से परेशान होकर आयशा ने की आत्महत्या

अहमदाबाद (मा.स.स.). आयशा ने सुसाइड करने से पहले एक इमोशनल वीडियो बनाया, जिसमें वे परिवार को मैसेज दे रही हैं। आयशा ने सुसाइड करने से पहले अपने पैरेंट्स को भी फोन किया था। पैरेंट्स ने समझाने की कोशिश की, लेकिन आयशा नहीं मानीं। उन्होंने कहा कि अब बहुत हो चुका-अब नहीं जीना, बच गई तो ले जाना, अगर मर गई तो दफन कर देना। आयशा ने अपने पैरेंट्स से यह भी बताया था कि पति को उसकी कोई परवाह नहीं।

आयशा के पिता लियाकत अली ने बताया, ‘बेटी ने सुसाइड करने पहले मोबाइल पर कॉल किया था। उसने बताया कि साबरमती नदी के ब्रिज पर खड़ी है और मरने जा रही है। हमने उसे समझाने की बहुत कोशिश की। यहां तक कि कुरान की कसम भी दी, लेकिन आयशा बस रोती रही और कहा कि आरिफ मुझे लेने नहीं आ रहा। मैंने कुछ दिन पहले उसे फोन किया था। उससे यह भी कहा था कि तुम्हारे बिना मर जाऊंगी, तो उसने बोला कि मरना है तो मर जाओ और मरने का वीडियो भेज देना। इसी बात से आयशा टूट गई थी।’

उन्होंने ने सुसाइड से पहले जो वीडियो बनाया उसमें कहा, ‘हैलो, अस्सलाम अलेकुम, मेरा नाम आयशा आरिफ खान…और मैं जो कुछ भी करने जा रही हूं, मेरी मर्जी से करने जा रही हूं। इसमें किसी का दबाव नहीं है, अब बस क्या कहें? ये समझ लीजिए कि खुदा की दी जिंदगी इतनी ही थी और मुझे इतनी जिंदगी बहुत सुकून वाली मिली। और डैड, कब तक लड़ोगे? केस विड्रॉल कर लीजिए।’

अहमदाबाद में रहने वाले और पेशे से टेलर आयशा के पिता लियाकत अली ने बताया, ‘बेटी का निकाह 2018 में जालौर (राजस्थान) में रहने वाले आरिफ खान से हुआ था, लेकिन शादी के बाद से ही उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। शादी के कुछ महीनों बाद ही आरिफ दहेज की मांग करते हुए आयशा को मायके छोड़ गया। बाद में रिश्तेदारों के समझाने पर साथ तो ले गया, लेकिन 2019 में फिर से हमारे पास छोड़ गया। आरिफ और उसके घर वाले डेढ़ लाख रुपए की मांग कर रहे थे। किसी तरह पैसों का इंतजाम कर उन्हें दे भी दिए थे।’

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

गुजरात निकाय चुनाव में भाजपा को सभी निगमों में मिली सत्ता, आप ने भी खता खोला

अहमदाबाद (मा.स.स.). . गुजरात में 6 नगर निगमों के नतीजों/रुझानों ने यह साबित कर दिया है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *