शुक्रवार , मई 14 2021 | 12:16:43 PM
Breaking News
Home / राज्य / दिल्ली / दिल्ली सरकार कोरोना से निपटने में पूरी तरह रही फेल : दिल्ली हाईकोर्ट

दिल्ली सरकार कोरोना से निपटने में पूरी तरह रही फेल : दिल्ली हाईकोर्ट

नई दिल्ली (मा.स.स.). कोरोना संक्रमण, ऑक्सीजन और बेड की कमी जैसे मुद्दों पर दिल्ली हाईकोर्ट में शुक्रवार को भी सुनवाई हुई। जस्टिस विपिन सिंघई और रेखा पल्ली ने कहा कि सरकार फेल हो गई। देश संक्रमण में बहुत बड़ी तेजी का गवाह बन रहा है। इसने पूरे मेडिकल सिस्टम पर असर डाला है। किसी ने कल्पना भी नहीं की थी कि ये हम पर इस तरह से हमला करेगा।

सुनवाई के दौरान स्टेट बार काउंसिल के चेयरमैन और सीनियर वकील रमेश गुप्ता रो पड़े। उन्होंने कोर्ट से कहा कि हमारे पास बार काउंसिल के कई संक्रमित सदस्यों के फोन आ रहे हैं। उन्हें ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं मिले तो वे मर जाएंगे। हाईकोर्ट ने कहा, ‘हम आपका दर्द समझते हैं। किसी ने नहीं सोचा था कि कोरोना वायरस के कारण इतने बुरे दिन आ जाएंगे।’

वकील रमेश गुप्ता ने कोर्ट से निवेदन किया कि बार काउंसिल के सदस्यों के लिए एक अस्पताल की व्यवस्था की जाए। इसमें ICU बेड की सुविधा भी हो। उन्होंने कहा कि हालात बहुत बुरे हैं। लोग वैक्सीन, ऑक्सीजन की कमी और दूसरी मेडिकल सुविधाओं के बिना मर रहे हैं। गुप्ता ने कहा कि हम इन बातों में नहीं पड़ना चाहते कि इसमें केंद्र की गलती है या दिल्ली सरकार की। हम बस इतना पूछना चाहते हैं कि देश की सेना को इसमें शामिल क्यों नहीं किया जा सकता?

ऑक्सीजन कंपनी सेठ एयर ने हाईकोर्ट में कहा कि उनके पास ऑक्सीजन खरीदने के पैसे नहीं हैं। कंपनी ने कहा कि लिंडे कंपनी ने ऑक्सीजन के रेट बढ़ा दिए हैं, लेकिन सेठ एयर पुराने रेट पर ही ऑक्सीजन सप्लाई कर रही है। इस पर कोर्ट ने कहा कि यदि ऐसा हो रहा है तो यह एक बड़ी समस्या है। दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में अमेकस क्यूरी बने राजशेखर राव से कहा कि लिंडे कंपनी से संपर्क कर इस मामले को समझने की कोशिश करें।

दिल्ली हाईकोर्ट ने ऑक्सीजन सप्लाई की समस्या सुलझाने के लिए एक वॉट्सऐप ग्रुप बनाने की सलाह दी। कोर्ट ने कहा कि एक ग्रुप बनाकर उसमें ऑक्सीजन सप्लायर्स और अस्पतालों को जोड़िए। इससे जवाबदेही तय होगी और काम में पारदर्शिता भी आएगी।

दिल्ली में 24 घंटे में 24,235 नए मरीज मिले
देश की राजधानी दिल्ली में गुरुवार को 24,235 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। 25,615 लोग ठीक हुए और 395 की मौत हो गई। अब तक 11 लाख 22 हजार लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 10 लाख 8 हजार ठीक हो चुके हैं, जबकि 15,772 मरीजों की मौत हो चुकी है। 97,977 का इलाज चल रहा है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

अब क्राइम ब्रांच करेगी खान चाचा रेस्टोरेंट कांड की जांच

नई दिल्ली (मा.स.स.). देश की राजधानी दिल्ली की लोधी कालोनी के रेस्टोरेंट-बार से 419 ऑक्सीजन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *