मंगलवार , अक्टूबर 19 2021 | 01:59:13 AM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / अपर मुख्य सचिव, उ.प्र. के निजी सचिव ने गोली मार कर की आत्महत्या

अपर मुख्य सचिव, उ.प्र. के निजी सचिव ने गोली मार कर की आत्महत्या

लखनऊ (मा.स.स.). अपर मुख्य सचिव नगर विकास रजनीश दुबे के निजी सचिव ने सोमवार को लाइसेंसी रिवाल्वर से अपनी कनपटी पर गोली मार ली। गंभीर हालत में उन्हें सिविल अस्पताल भेजा गया। गोली चलने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस को घटनास्थल पर कुर्सी के करीब रिवाल्वर पड़ा मिला। वह ठाकुरगंज के बालागंज के रहने वाले हैं।

एसीपी हजरतगंज राघवेंद्र मिश्रा के मुताबिक अपर मुख्य सचिव नगर विकास रजनीश दुबे के निजी सचिव विश्वंभर दयाल ने सोमवार दोपहर करीब 1:45 बजे बापू भवन स्थित अपने कार्यालय में खुद को गोली मार ली। उन्हें गंभीर हालत में सिविल अस्पताल भेजा गया है। एसीपी हजरतगंज के मुताबिक सोमवार को करीब 1:30 बजे विशंभर दयाल बापू भवन के आठवें फ्लोर पर स्थित अपने कार्यालय में पहुंचे और कमरा बंद करके खुद को गोली मार ली।

गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोगों ने दरवाजा खटखटाया लेकिन नहीं खुला तो सुरक्षाकर्मियों को सूचना दी गई। सुरक्षाकर्मियों ने दरवाजा खोलकर विश्वंभर दयाल को अस्पताल भेजा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। डीसीपी सेंट्रल डा. ख्याति गर्ग के मुताबिक दोपहर एकाएक अपर मुख्य सचिव के कक्ष से गोली चलने की आवाज सुनते ही पड़ोस के दफ्तर में काम कर रहे एक निजी सचिव उनके कक्ष में पहुंचे। कक्ष में खून से लथपथ हालत में विश्वंभर दयाल पड़े थे।

उन्होंने तत्काल उच्चाधिकारियों और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद विश्वंभर दयाल को गंभीर हालत में लोहिया ले जाया गया। सूचना पर इंस्पेक्टर हुसैनगंज दिनेश कुमार विष्ट, एसीपी हजरतगंज राघवेंद्र मिश्र समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। निजी सचिव ने कनपटी पर सटा कर खुद को गोली मारी है। रिवाल्वर में डोरी लगी थी। इसलिए संभावना है कि रिवाल्वर उनकी लाइसेंसी है। घटना की विभिन्न बिंदुओं पर पड़ताल की जा रही है।

सूत्रों के मुताबिक निजी सचिव विश्वंभर दयाल के मोबाइल पर किसी का फोन आया। फोन पर बात करने के बाद उन्होंने खुद को गोली मारी। फोन नीचे ही पड़ा था। पुलिस की टीम इस बात की भी पड़ताल कर रही है कि वह किससे बात कर रहे थे। ऐसा कौन का कारण था कि वह छुट्टी के दिन दफ्तर पहुंचे।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

प्रशासन के रिकॉर्ड से गायब हुए मुख्तार अंसारी की संपत्तियों के अभिलेख

लखनऊ (मा.स.स.). जिला प्रशासन मुख्तार अंसारी व उनकी पत्नी आफ्शा अंसारी की पुरानी संपत्तियों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *