शनिवार , मई 21 2022 | 08:36:51 PM
Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / चीन 2.6 करोड़ शंघाई वासियों का कराएगा कोरोना टेस्ट

चीन 2.6 करोड़ शंघाई वासियों का कराएगा कोरोना टेस्ट

Follow us on:

बीजिंग (मा.स.स.). चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई में कोविड-19 के मामले बढ़ रहे हैं। लाखों लोग लॉकडाउन के कारण अपने घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 438 नए मामलों की पुष्टि हुई है। साथ ही 7,788 ऐसे मामले भी सामने आए हैं जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं हैं। दोनों तरह के मामले कल की तुलना में थोड़े ज्यादा हैं। वहीं, उत्तर पूर्वी प्रांत जिलिन में रविवार कोरोना वायरस के कुल 4,455 नए मामले सामने आए, जो शनिवार को सामने आए मामलों से अधिक हैं। कई देशों की तुलना में यह संख्या कम है, लेकिन दैनिक मामले चीन में 2019 के अंत में वुहान में मिले मामलों के बाद सबसे ज्यादा हैं।

शंघाई में 2.6 करोड़ की आबादी दो चरणों में लॉकडाउन का सामना कर रही है। यहां हालात इतने खराब हो चुके हैं कि चीनी प्रशासन को यहां पर सेना भेजने पड़ी है। रिपोर्ट के मुताबिक, शंघाई में PLA ने कुल 2,000 मेडिकल पर्सनल्स की तैनाती की है। अलग-अलग इलाकों में हजारों की संख्या में हेल्थवर्कर्स भी तैनात किए गए हैं। ये लोग घर-घर जाकर कोरोना टेस्टिंग कर रहे हैं। साथ ही लोगों को घर में ही रहने की हिदायत भी दी जा रही है।

पूर्वी पुडोंग क्षेत्र के निवासियों को शुक्रवार को घरों से निकलने की इजाजत दी जानी थी, जबकि पश्चिमी पुशी क्षेत्र में शुक्रवार से चार दिन के लिए लॉकडाउन लगा हुआ है। आश्वासन के बावजूद, पुडोंग में लाखों लोग लगातार घरों में कैद हैं। निवासियों से कहा गया है कि वे रोजाना कोविड-19 की जांच करें, घर में मास्क लगाने समेत एहतियाती उपाय करें और परिवार के सदस्यों के नजदीक जाने से बचें। वुहान में 76 दिन का लॉकडाउन लगाया था, लेकिन वहां लोगों को इसे लेकर ज्यादा शिकायतें नहीं थी। शंघाई में कई लोग इसकी शिकायतें कर रहे हैं। वे सोशल मीडिया पर अपनी परेशानियां बता रहे हैं।

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने खबर दी है कि सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी की पोलित ब्यूरो की सदस्य सुन चुनलैन ने आग्रह किया है कि शंघाई में जल्द से जल्द कोविड के मामलों पर काबू करने के लिए तेजी से कदम उठाए जाएं। चीन में कोविड के मामले बढ़ने के बावजूद 20 मार्च के बाद संक्रमण के कारण किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई है। देश में अब तक 4,638 लोगों की कोविड से मौत हो चुकी है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

जेलेंस्की की गर्लफ्रेंड है पुतिन की बेटी कैटेरीना

मास्को (मा.स.स.). डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार व्लादिमीर पुतिन की बेटी कैटेरीना तिखोनोवा के …