शनिवार , मई 21 2022 | 10:09:37 PM
Breaking News
Home / राज्य / जम्मू और कश्मीर / सुरक्षाबलों ने पहले खोजी लम्बी सुरंग और अब 265 फीट लंबा ऑक्सीजन पाइप

सुरक्षाबलों ने पहले खोजी लम्बी सुरंग और अब 265 फीट लंबा ऑक्सीजन पाइप

Follow us on:

जम्मू (मा.स.स.). पाकिस्तान की नापाक हरकतों को सीमा पर तैनात भारतीय जवान लगातार कुचलते आ रहे हैं। कल भी बीएसएफ को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। बीएसएफ जम्मू फ्रंटियर के आईजी डीके बूराके मुताबिक, बीएसएफ ने सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास एक भूमिगत सीमापार सुरंग का पता लगाया, जिसके बारे में संदेह है कि इसका इस्तेमाल आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के दो आत्मघाती हमलावरों ने किया।

आज सुबह से जारी जांच में पाकिस्तान की काली करतूतें निकलकर सामने आ रही हैं। बीएसएफ की ओर से आज सुबह से ही आइबी के समीप खोजी गई सुरंग की जांच जारी है। अभी तक बीएसएफ को 265 फीट लंबी आक्सीजन की पाइप बरामद हुई है। प्राथमिक जांच में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि दो फीट चौड़ी इस सुरंग का इस्तेमाल पाकिस्तान की ओर से जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों की घुसपैठ के लिए किया गया है। सुरंग से घुसपैठ के दौरान दम न घुटे इसके लिए बाकायदा से आक्सीजन पाइप के माध्यम से आक्सीजन की सप्लाई भी की गई।

22 अप्रैल को जम्मू के निकट मारे गए जैश-ए-मोहम्मद के दोनों आतंकियों के इसी सुरंग से दाखिल होने का कोई सुबूत नहीं है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में बैठे आतंकी आगामी अमरनाथ यात्रा को बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं। इस सुरंग का पता लगा कर बहादुर जवानों ने आतंकियों की एक बड़ी साजिश को नाकाम किया है।

बीएसएफ आईजी डी के बोरा ने बताया कि इस सुरंग से 21 रेत की बोरियां मिली हैं। इन पर किसी प्रकार की कोई मार्किंग नहीं मिली है। इसके पहले मिली सुरंग से जो बोरियां मिलीं थी उन पर कराची लिखा होता था। उन्होंने कहा कि 2012 के अब तक पाकिस्तान सीमा पर 11 सुरंग मिली है। सुरंग हाल ही में खोदी गई लग रही है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

पीओजेके पीड़ितों को मिलेगा न्याय !

–प्रो. रसाल सिंह आज़ादी का अमृत महोत्सव मनाते हुए जम्मू-कश्मीर के अपने उन भाइयों और …