शुक्रवार , मई 20 2022 | 07:06:58 AM
Breaking News
Home / राज्य / राजस्थान / करौली दंगों से डरे दलितों का पलायन, किरोड़ी लाल मीणा ने दिया धरना

करौली दंगों से डरे दलितों का पलायन, किरोड़ी लाल मीणा ने दिया धरना

Follow us on:

जयपुर (मा.स.स.). करौली में नव संवत्सर रैली पर हुए पथराव के मामले को लेकर सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने सरकार पर हल्ला बोला है. किरोड़ी लाल मीणा, करौली जिला कलेक्ट्रेट परिसर में सांकेतिक धरने पर बैठ गये हैं. किरोड़ी ने करौली में हिंसा के मामले पर पक्षपातपूर्ण कार्रवाई का आरोप लगाया और कहा कि जब तक निष्पक्ष कार्रवाई पूरी नहीं होती तब तक मैं सांकेतिक धरना दूंगा. सांसद किरोड़ी के मुताबिक करौली के कई हिस्सों में लोग डरे हुए हैं और पलायन कर रहे हैं. किरोड़ी लाल मीणा ने पलायन करने वाले 195 लोगों की लिस्ट भी जारी की और कहा कि संभागीय आयुक्त अभी तक पलायन की घटना से इनकार कर रहे हैं.  लेकिन जाटव, खटीक, धोबी, कुम्हार, कहार और अन्य समाजों के कई परिवारों ने इलाके से पलायन किया है. किरोड़ी लाल मीणा ने इस साल 8 अप्रैल तक पलायन करने वाले परिवारों की लिस्ट सौंपी है.

सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने करौली दंगों को लेकर सीएम को पत्र लिखा है. पत्र में किरोड़ी ने सीएम गहलोत के सामने छह मांगे रखी हैं. किरोड़ी ने कहा कि डर के चलते दलित पलायन कर रहे हैं. साथ ही पुलिस निर्दोष लोगों को प्रताड़ित कर रही है. किरोड़ी ने कहा कि बहुसंख्यक समुदाय धारा 144 में कैसे त्यौहार मनाएगा. किरोड़ी ने उपद्नवियों द्वारा चुराये गये सामान को बरामद करने और इलाके में माहौल बिगाड़ रहे पीएफआई पर प्रभावी ढंग से रोक लगाने की मांग की. इधर धारा 144 कैला देवी मेले परिक्षेत्र को छोड़कर पूरे जिले में है, प्रशासन ने आमजन से सहयोग की अपील की है और किसी भी अप्रिय घटना की सूचना जिला पुलिस के बनाए गए कंट्रोल रूम को देने को कहा गया है. करौली दंगे मामले में अब तक 29 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. बाकी लोगों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं. बाइक रैली पर पथराव के बाद आगजनी, तोड़फोड़ और उपद्रव के बाद से करौली में कर्फ्यू जारी है. कर्फ्यू 10 अप्रैल तक जारी रहेगा. आज कर्फ्यू में 4 घंटे की ढील दी गई है. सुबह 9:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक सभी प्रकार की दुकानों को खोलने को छूट दी गयी थी.

जिले में हालातों को देखते हुए किसी भी प्रकार के वाहनों को परमिशन नहीं दी गई है. दुपहिया वाहनों को जब्त कर थाने में बंद किया जा रहा है. जिला कलेक्टर राजेंद्र सिंह शेखावत और जिला पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह ने सभी शहर वासियों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है. शहर में लोग आवश्यक सामान खरीदने के लिए निकल रहे है. इस दौरान शहर में आईजी लॉ एंड ऑर्डर बीएल मीना, कलेक्टर राजेंद्र सिंह शेखावत, जिला पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह सहित अन्य अधिकारी कर्फ्यू में ढील के दौरान शहर का जायजा लिया. सभी बाजारों में पुलिस लगातार गश्त कर रही है.

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

जोधपुर और भीलवाड़ा में अब सामान्य हो रहे हैं हालात

जयपुर (मा.स.स.). भीलवाड़ा में दो मुस्लिम युवकों पर हमला कर उनकी बाइक जलाने के मामले …