गुरुवार , जनवरी 20 2022 | 07:10:18 PM
Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / चीन कोरोना संक्रमण के संदिग्धों को बक्सों में कर रहा है कैद

चीन कोरोना संक्रमण के संदिग्धों को बक्सों में कर रहा है कैद

बीजिंग (मा.स.स.). चीन ने कोरोना नियंत्रण के लिए ‘जीरो कोविड पॉलिसी’ को अपनाया है। इसे अमल में लाने के लिए चाइनीज सरकार आम लोगों पर भयानक अत्याचार कर रही है। इसका एक उदाहरण शांक्सी प्रांत के शियान शहर में देखने को मिल रहा है। यहां पर लोगों को क्वारैंटाइन सेंटर के नाम पर लोहे के बक्सों में बंद करके रखा जा रहा है। इंटरनेशनल मीडिया के इस खुलासे ने दुनिया को सकते में डाल दिया है। डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, गर्भवती महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों को भी इन बक्सों में रहने के लिए मजबूर किया जा रहा है। अगर किसी इलाके में एक भी कोरोना संक्रमित मिलता है, तो उस इलाके के लोगों को इन बक्सों में डाल दिया जाता है। बहुत से इलाकों में लोगों को आधी रात में उनके घर से निकालकर इन क्वारैंटाइन सेंटर्स में भेज दिया गया।

चीन में ‘ट्रैक-एंड-ट्रेस’ रणनीति के तहत पॉजिटिव के संपर्क में आने वाले लोगों का पता लगाकर उन्हें क्वारैंटाइन सेंटर में भेज दिया जाता है। फिलहाल लगभग 2 करोड़ लोगों को उनके घरों में कैद कर रखा गया है। इन लोगों को खाना खरीदने के लिए भी बाहर निकलने की अनुमति नहीं है।  चीन अगले महीने बीजिंग में होने वाले विंटर ओलंपिक की तैयारी कर रहा है। इस वजह से आम लोगों पर और ज्यादा सख्ती बरती जा रहा है। कई जगहों से पर तो लोगों के पास खाने का सामान खत्म हो गया है, जिसके बाद वो सोशल मीडिया के जरिए मदद की गुहार लगा रहे हैं। कोरोना नियंत्रण के लिए चीन की सरकार इतनी ज्यादा सख्ती बरत रही है कि अनयांग शहर में 2 ओमिक्रॉन संक्रमित मिलने के बाद ही लॉकडाउन लगा दिया गया। इस शहर की आबादी 55 लाख है। इससे पहले यहां के 1 करोड़ 30 लाख आबादी वाले शीआन शहर और 11 लाख की आबादी वाले युझोउ शहर में लॉकडाउन लगाया जा चुका है। चीन में अब कुल 1.96 करोड़ आबादी लॉकडॉउन में है। बड़े पैमाने पर कोविड जांच के लिए यह लॉकडॉउन लगाया गया है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

पाकिस्तानी पायलट ने शिफ्ट खत्म होने की बात कह एयरक्राफ्ट उड़ाने से किया इनकार

इस्लामाबाद (मा.स.स.). पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) एक बार फिर विवादों में है। इस सरकारी एयरलाइंस …