शनिवार , मई 21 2022 | 09:13:07 PM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / सपा समर्थक ने बुलडोजर बाबा के नाम पर रखा अपनी चाय व लस्सी की दुकान का नाम

सपा समर्थक ने बुलडोजर बाबा के नाम पर रखा अपनी चाय व लस्सी की दुकान का नाम

Follow us on:

लखनऊ (मा.स.स.). यूपी में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में सबसे ज्यादा सुर्खियों में रहने वाला शब्द था- बुलडोजर। इसका क्रेज ऐसा दिखा कि टैटू, खिलौने, पिचकारी हर जगह बुलडोजर का ही असर दिखा। यूपी में भाजपा की सरकार है। योगी आदित्यनाथ दूसरी बार मुख्यमंत्री बने हैं। वाराणसी में एक सपा समर्थक दुकानकार इस कदर भाजपा और बुलडोजर के मुरीद हुए कि उन्होंने अपनी चाय और लस्सी की दुकान का नाम बदलकर ‘बुलडोजर बाबा टी स्टाल एवं गौशाला लस्सी भंडार’ रख दिया है।

दुकानदार का दो टूक कहना है कि पढ़ा-लिखा नहीं हूं, लेकिन यह जानता हूं कि बाबा योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश में बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। इसीलिए महाराज जी से प्रभावित होकर इस बार विधानसभा चुनाव में पहली बार भाजपा को वोट दिया था। वाराणसी के बड़ा लालपुर नटिनियादाई क्षेत्र में रामसूरत यादव की चाय-लस्सी, दूध-दही, पनीर-रबड़ी और मलाई की दुकान है। अहमदपुर निवासी रामसूरत यादव को यह दुकान खोले हुए दो सालों से ज्यादा वक्त हो गया है। रामसूरत ने बीते दो सालों से अपनी दुकान का कोई नाम नहीं रखा था। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में दोबारा भाजपा की सरकार बनी तो रामसूरत यादव ने अपनी दुकान का नाम ‘बुलडोजर बाबा टी स्टाल एवं गौशाला लस्सी भंडार’ रख दिया।

दुकान के नए नामकरण के संबंध में पूछने पर रामसूरत ने कहा कि हमको बाबा की कार्यशैली बहुत अच्छी लगी। उन्होंने जिस तरह से माफिया-अपराधियों की काली कमाई पर बुलडोजर चलाया है वह जबरदस्त है। बदमाशों और माफियाओं का पतन हो रहा है। रामसूरत यादव ने कहा कि योगी आदित्यनाथ से प्रभावित होकर पहली बार भाजपा को वोट दिया है। इससे पहले हर चुनाव में समाजवादी पार्टी को वोट देता था। हमने देखा है कि कोरोना महामारी के समय में बाबा योगी आदित्यनाथ ने किस तरह से गरीबों का ध्यान रखा। किसी को खाने की दिक्कत नहीं हुई। सब लोग आराम से अपना काम कर रहे हैं और चोर-बदमाशों के खिलाफ लगातार कार्रवाई हो रही है। इन्हीं सब वजह से प्रभावित होकर हमने अपनी दुकान का नया नामकरण किया है।

यह कोई पहला मामला नहीं है जब किसी ने नेता से प्रभावित होकर ऐसा किया हो। इससे पहले भी पीएम मोदी से प्रभावित होकर अलग-अलग शहरों में मोदी टी स्टॉल, नमो टी स्टॉल खुले हैं। नरेन्द्र मोदी का मंदिर भी बना है। योगी मोदी के नाम पर चालीसा भी बना है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

ज्ञानवापी में जुटे क्षमता से अधिक नमाजी, यासीन ने कहा, ‘’हम मस्जिद के लिए हमेशा लड़ते रहेंगे’

लखनऊ (मा.स.स.). वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में शुक्रवार यानी जुमे के दिन 1200 से ज्यादा …