मंगलवार , मई 17 2022 | 09:05:14 AM
Breaking News
Home / खेल / 1949 के बाद भारत पहली बार थॉमस कप के फाइनल में

1949 के बाद भारत पहली बार थॉमस कप के फाइनल में

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). भारतीय पुरुष बैडिमिंटन टीम ने इतिहास रच दिया है। हमारी टीम ने प्रतिष्ठित थॉमस कप टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बना ली है। सेमीफाइनल में भारत ने डेनमार्क को कड़े मुकाबले में 3-2 से हरा दिया। थॉमस कप का आयोजन 1949 से हो रहा है। यानी 73 साल में पहली बार भारतीय टीम खिताबी मुकाबला खेलेगी। आगे बढ़ने से पहले पोल में हिस्सा जरूर लें।

भारत की जीत में सिंगल्स में किदांबी श्रीकांत, एचएस प्रणय और डबल्स में सात्विकसाईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने अहम किरदार निभाया। इन्होंने अपने-अपने विपक्षी के खिलाफ जीत हासिल की। हालांकि, लक्ष्य सेन को वर्ल्ड चैंपियन विक्टर एक्सेलसेन के हाथों हार का सामना करना पड़ा। भारतीय टीम 1979 के बाद से कभी भी सेमीफाइनल से आगे नहीं बढ़ सकी थी। लेकिन उसने जुझारू जज्बा दिखाते हुए 2016 के चैम्पियन डेनमार्क को हरा दिया।

यह भी पढ़े : रणवीर कपूर की फिल्म जयेशभाई जोरदार का पहले दिन नहीं दिखा असर

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

भारत नहीं, धर्म के नाम पर भावनाएं भडकाने वाले दुश्मन : पाकिस्तानी क्रिकेटर

इस्लामाबाद (मा.स.स.). पाकिस्‍तान टीम के पूर्व कप्‍तान शाहिद अफरीदी और स्पिनर दानिश कनेरिया के बीच …