शनिवार , मई 21 2022 | 08:45:00 PM
Breaking News
Home / राज्य / दिल्ली / जहांगीरपुरी हिंसा : दिल्ली पुलिस को मस्जिद पर झंडा लगाने के नहीं मिले हैं कोई तथ्य, फिर हुआ पथराव

जहांगीरपुरी हिंसा : दिल्ली पुलिस को मस्जिद पर झंडा लगाने के नहीं मिले हैं कोई तथ्य, फिर हुआ पथराव

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). दिल्ली के पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना से सवाल पूछा गया कि ऐसा भी कहा जा रहा है कि यह पूरा विवाद एक मस्जिद में झंडे लगाने से शुरू हुआ। इस पर अस्थाना ने कहा कि इस बात में तथ्य नहीं है। झगड़ा छोटी सी बात से शुरू हुआ था। बाद में यह मामला बढ़ गया। जो लोग यह कह रहे हैं कि झंडा लगाने की कोशिश की थी, तो यह बात सही नहीं है। हिंसा में बांग्लादेशी नागरिकों और रोहिंग्याओं के शामिल होने के सवाल पर अस्थाना ने कहा कि पुलिस हर ऐंगल से इसकी जांच कर रही है।

राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी में सोमवार को एक बार फिर पथराव की घटना देखने को मिली। बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस द्वारा एक महिला को पूछताछ के लिए ले जाने के दौरान यह पथराव किया गया। हालात को देखते हुए इलाके में रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के साथ ही भारी पुलिस बल तैनात है। पुलिस सोमवार को जहांगीरपुरी हिंसा के दौरान फायरिंग करता दिखे सोनू शेख की पत्नी से पूछताछ के लिए पहुंची थी, तभी अचानक वहां जमा हुई भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर दिया।

जहांगीरपुरी इलाके में सोमवार दोपहर एक बार फिर पथराव की घटना सामने आई। इस बार पुलिस कार्रवाई के विरोध में कुछ लोगों ने पथराव का प्रयास किया। हालांकि, इलाके में भारी संख्या में मौजूद पुलिस बल ने लोगों को काबू कर लिया और पथराव के बावजूद भी पुलिस टीम उस महिला को पूछताछ के लिए अपने साथ ले गई, जिसके पति सोनू शेख पर गोली चलाने का आरोप है। दरअसल, वह एक वीडियो में गोली चलाते हुए दिखाई दे रहा है।

क्षेत्र के सी ब्लॉक निवासी आरोपी  सोनू शेख घटना के बाद से ही फरार है। लिहाजा पुलिस टीम उसकी पत्नी को पूछताछ के लिए अपने साथ ले जाने के लिए उसके घर पहुंची थी, लेकिन सोनू की पत्नी और उसके कुछ करीबी लोगों ने पहले तो इसका विरोध किया और फिर पुलिस पर पथराव करने की भी कोशिश की।

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की उसकी तलाश में उसके करीबी नेटवर्क के लोगों से पूछताछ कर उसके संभावित ठिकानों के बारे में जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है। जहांगीरपुरी में पूरे इलाके में पुलिस का सख्त पहरा बैठा दिया गया है। माहौल तनावपूर्ण लेकिन शांत है। हिंसा प्रभावित इलाके में आने-जाने के तमाम रास्तों पर पुलिस का कड़ा पहरा है। इतना ही नहीं, जिस कुशल सिनेमा रोड पर हिंसा हुई थी, उस पर और उसके आस-पास सी ब्लॉक मेन रोड, धोबी घाट रोड और मंगल बाजार रोड पर भी पुलिस और सुरक्षा बलों के जवान तैनात कर दिए गए हैं।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

अनिल बैजल ने दिल्ली के उपराज्यपाल का पद छोड़ा

नई दिल्ली (मा.स.स.). दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया …