सोमवार , मई 16 2022 | 11:06:44 AM
Breaking News
Home / राज्य / दिल्ली / जहांगीरपुरी हिंसा : एक रात पहले तैयारी, पीएफआई एंगल, अब लगेगा एनएसए

जहांगीरपुरी हिंसा : एक रात पहले तैयारी, पीएफआई एंगल, अब लगेगा एनएसए

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). जहांगीरपुरी हिंसा के पीछे कौन लोग थे और उनकी मंशा क्या थी? दिल्ली पुलिस लगातार इस सवाल का जवाब ढूंढने की कोशिश कर रही है। अब तक की जांच में यह साफ हो गया है कि आपराधिक साजिश के तहत दंगे हुए। पुलिस करीब 200 वीडियो खंगाल रही है जिनसे एक-एक कर जानकारियां सामने आ रही हैं। अब जहांगीरपुरी हिंसा से एक रात पहले का वीडियो सामने आया है, जिससे उन आशंकाओं को बल मिला है कि हिंसा को लेकर तैयारी पहले से की गई थी। इस सीसीटीवी फुटेज में कुछ युवक डंडे लिए दिखाई देते हैं। ये लोग जिस सड़क पर खड़े दिख रहे हैं, इसी रास्ते से कुछ घंटे बाद शोभायात्रा निकलनी थी।

2 मिनट के वायरल वीडियो में छह लड़के दिख रहे होते हैं। कुछ देर के बाद बनियान पहने तीन और लोग वहां आ जाते हैं। एक लड़के के हाथ में बोतल या पत्थर और बनियान पहने एक शख्स के हाथ में तलवार जैसी चीज दिखाई देती है। स्पेशल पुलिस कमिश्नर (लॉ-एंड-ऑर्डर) दीपेंद्र पाठक ने मंगलवार को कहा कि हिंसा के दौरान वीडियो में जो लोग भी हथियार के साथ दिखाई दे रहे थे, उन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनसे जब पूछा गया कि क्या PFI के एंगल से भी जांच हो रही है तो उन्होंने कहा कि जांच की जानकारी इस वक्त देना ठीक नहीं है।

जहांगीरपुरी हिंसा मामले में गृहमंत्रालय की तरफ से बड़ी कार्रवाई की गई है। सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय गृहमंत्रालय ने दिल्ली हिंसा के पांच आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाने का फैसला किया है। आगे भी बाकी आरोपियों के खिलाफ ऐसी ही सख्त कार्रवाई हो सकती है। इससे पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस को सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश जारी किए थे। जिन पांच आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाया गया है, उनमें मुख्य आरोपी कहे जा रहे अंसार का नाम भी शामिल है। उसके अलावा आरोपी सलीम, इमाम शेख उर्फ सोनू, दिलशाद और आहिर के खिलाफ नेशनल सिक्योरिटी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

कुतुब मीनार को विष्णु स्तंभ बता पढ़ी हनुमान चालीसा

नई दिल्ली (मा.स.स.). दिल्ली स्थित कुतुब मीनार परिसर में हिन्दू संगठनों ने हनुमान चालीसा का …