शनिवार , मई 21 2022 | 09:34:53 PM
Breaking News
Home / राज्य / राजस्थान / गहलोत सरकार ने रात के अंधेरे में गिराया राम दरबार

गहलोत सरकार ने रात के अंधेरे में गिराया राम दरबार

Follow us on:

जयपुर (मा.स.स.). राजस्थान के चूरू जिले के सुजानगढ़ में रामदरबार को बुलडोजर से तोड़ने का वीडियो वायरल हुआ है। इसके बाद सोशल मीडिया से लेकर यहां सड़क तक सियासी घमासान मच गया है। इस पूरे मामले के सामने आने और वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी ने इसकी कड़ी निंदा की है। साथ ही गहलोत सरकार की नीति और नियत पर सवाल उठा दिया है।

बीजेपी ने इस मुद्दे को लेकर गहलोत सरकार पर तीखा हमला किया है। साथ ही राजस्थान बीजेपी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि अंधेरी रात में भगवान राम और उनके दरबार की मूर्तियों पर गहलोत सरकार ने जो बुलडोजर चलाया है, उसे हम नहीं भूलेंगे। दरअसल राजस्थान के चूरू जिले के सुजानगढ़ के एक मंदिर का एंट्री गेट तोड़ने का वीडियो वायरल हो रहा है। इसे लेकर बीजेपी ने दावा किया है कि सरकार की शह पर प्रशासन ने यहां राम मंदिर को तोड़ा है। वीडियो में रात का घुप अंधेरा में पीडब्ल्यूडी की जेसीबी मशीन रामदरबार के गेट को ध्वस्त करते दिखाई दे रही है। एंट्री गेट पर लगी राम दरबार की मूर्ति तोड़ने के इस वीडियो को लेकर हिंदू संगठनों में रोष है। वहीं बीजेपी के नेता इसे वीडियो को लगातार ट्वीट कर सरकार को घेरने में कोशिश कर रहे हैं।

घटना के बाद जानकारी मिली है कि वायरल वीडियो के बाद हिन्दू कार्यकर्ताओं ने सुजानगढ़-सालासर रोड को जाम कर के विरोध प्रदर्शन किया। डेढ़ घंटे तक लगा जाम रात पौने आठ बजे खुल सका। धरने के दौरान हनुमान चालीसा का पाठ भी हुआ। दोनों तरफ से गाड़ियों की लम्बी कतारें लग गईं, जिसकी वजह से कई किलोमीटर लम्बे जाम से निपटना प्रशासन के लिए भी मुश्किल हो गया। पुलिस से आक्रोशित हिन्दू कार्यकर्ताओं ने मांग की कि सीनियर अधिकारियों को मौके पर बुलाया जाए।

राजस्थान बीजेपी ने ट्वीट के जरिए इसे ‘सुजानगढ़ में गहलोत सरकार की “निशाचरी करतूत”!’ बताया है। वहीं केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीट कर लिखा है कि ‘प्रभु श्रीराम को काल्पनिक बताने वाली कांग्रेस अपना अस्तित्व खतरे में देख मंदिर जाने का दिखावा करने लगी लेकिन असलियत छिपाए नहीं छिपती। सुजानगढ़ में प्रवेश द्वार को गिराते हुए यह ध्यान नहीं रखा गया कि वहां राम दरबार बना हुआ है। इस तरीके को कौन सच्चा हिंदू स्वीकार करेगा?’।

वहीं चूरू के सरदारशहर के आने वाले विधायक और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने घटना की घोर निंदा करते हुए लिखा है कि हिन्दु और हिन्दुत्व की अलग व्याख्या करने वाली कांग्रेस सरकार के शासन में भगवान भी सुरक्षित नहीं है। इसके अलावा बीजेपी के कई अन्य नेताओं ने भी इस वीडियो को ट्वीट-रीट्वीट किया है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

जोधपुर और भीलवाड़ा में अब सामान्य हो रहे हैं हालात

जयपुर (मा.स.स.). भीलवाड़ा में दो मुस्लिम युवकों पर हमला कर उनकी बाइक जलाने के मामले …