सोमवार , मई 16 2022 | 10:59:13 AM
Breaking News
Home / राज्य / राजस्थान / राजस्थान में 300 साल पुराने मंदिर पर चलाया बुलडोजर, मूर्तियां की खंडित

राजस्थान में 300 साल पुराने मंदिर पर चलाया बुलडोजर, मूर्तियां की खंडित

Follow us on:

जयपुर (मा.स.स.). दिल्ली, उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश की सरकारों ने अवैध कब्जों पर बुलडोजर चलाया तो राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अतिक्रमण करने वालों के पक्ष में खड़े हो गए. गहलोत ने चार दिन पहले कहा था कि आरोप साबित हुए बिना किसी के निर्माण पर बुलडोजर नहीं चला सकते. लेकिन अब अधिकारियों ने राजस्थान में अलवर जिले के राजगढ़ में तीन मंदिरों और 100 दुकानों व मकानों पर बुलडोजर चलवा दिया. इनमें से एक मंदिर तो 300 साल पुराना है. मंदिर में स्थापित शिव लिंग को कटर से काटा गया, जिससे उसका कुछ हिस्सा टूट गया. यही नहीं, अन्य मूर्तियों की भी बेकद्री करते हुए कचरे में डाल दिया गया.

बीजेपी के आईटी सेल के इंचार्ज अमित मालवीय ने ट्वीटर पर लिखा- राजस्थान के अलवर में विकास के नाम पर तोड़ा गया 300 साल पुराना शिव मंदिर… करौली और जहांगीरपुरी पर आंसू बहाना और हिन्दुओं की आस्था को ठेस पहुंचाना- यही कांग्रेस का सेक्यूलरिज्म है. अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज ने मंदिर तोड़े जाने को लेकर विपक्षी दलों को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि अलवर में 300 साल पुराने हिंदू सनातन मंदिर को तोड़े जाने पर विपक्षी मौन क्यों है चुल्लू भर पानी में डूब के मर जाए विपक्ष. रिपोर्ट्स के मुताबिक, राजस्थान सरकार ने करीब 300 साल पुराने मंदिर को ढहा दिया. इस दौरान कई मूर्तियां विखंडित हो गई. स्थानीय लोगों ने यह आरोप लगाया कि विकास के नाम पर मंदिर को तोड़ा गया है.

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

जोधपुर और भीलवाड़ा में अब सामान्य हो रहे हैं हालात

जयपुर (मा.स.स.). भीलवाड़ा में दो मुस्लिम युवकों पर हमला कर उनकी बाइक जलाने के मामले …