बुधवार , मई 18 2022 | 09:23:54 PM
Breaking News
Home / राज्य / बिहार / विधायकों का भाजपा में विलय, फिर भी मुकेश सहनी नहीं छोड़ना चाहते मंत्री पद

विधायकों का भाजपा में विलय, फिर भी मुकेश सहनी नहीं छोड़ना चाहते मंत्री पद

Follow us on:

पटना (मा.स.स.). विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के सभी तीन विधायकों के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने के एक दिन बाद मुकेश सहनी ने मंत्री पद छोड़ने से इनकार कर दिया है। विधानसभा चुनाव में हार के बाद बीजेपी की ओर से विधान परिषद में भेजे गए मंत्री मुकेश सहनी मंत्री पद छोड़ने की अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को फैसला लेना है। यदि वह उन्हें हटाते हैं तो फैसला मंजूर होगा।

वीआईपी बीजेपी और नीतीश कुमार की अगुआई वाली जेडीयू के साथ बिहार सरकार में हिस्सेदार है। पटना में गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए मुकेश सहनी ने कहा कि उनका जीवन संघर्षों से भरा रहा है और वह अंतिम सांस तक लड़ने के लिए तैयार हैं। सहनी ने बीजेपी में शामिल हुए अपने तीनों विधायकों को शुभकामनाएं दीं और कहा कि बीजेपी अब सदन में सबसे बड़ी पार्टी हो गई है। उन्होंने भाजपा को भी बधाई दी। सहनी से जब मंत्री पद से इस्तीफे को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ”मेरा इस्तीफा सीएम नीतीश कुमार का विशेषाधिकार है। इसलिए मैं वही करूंगा जो वह कहेंगे। सीएम नीतीश कुमार को यह फैसला करना है कि सरकार में कौन मंत्री होगा। यदि आप चाहें तो मुझे हटा दें।” बिहार के बीजेपी नेताओं पर आरोप लगाते हुए वीआईपी प्रमुख ने कहा कि उन्हें तोड़ने की शुरुआत से ही साजिश हो रही थी।

सहनी ने कहा, ”जब भी मैंने आगे बढ़ने की कोशिश की। मैं लोगों को खटकने लगा। यूपी चुनाव लड़कर मैंने कोई गलती नहीं की है। मैं अपने लोगों के लिए अंतिम सांस तक लड़ता रहूंगा, लेकिन संजय जायसवाल ने बहुत झूठ बोला है।” उन्होंने कहा कि बिहार बीजेपी प्रमुख संजय जायसवा को वीआईपी-बीजेपी गठबंधन की जानकारी नहीं है और उन्होंने बहुत झूठ बोला है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

निर्माणाधीन पुल का हिस्सा जरा सी बारिश में गिरा

पटना (मा.स.स.). बिहार के भागलपुर-खगड़िया के बीच गंगा नदी पर बन रहा फोरलेन पुल बारिश-आंधी …