सोमवार , मई 16 2022 | 11:16:49 AM
Breaking News
Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों में मिले 350 से अधिक बम

पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों में मिले 350 से अधिक बम

Follow us on:

कोलकाता (मा.स.स.). बीरभूम हिंसा के बाद पुलिस छापेमारी में पिछले 24 घंटे में बंगाल की अलग-अलग जगहों से 350 से ज्यादा क्रूड बम मिले हैं। इनमें सबसे अधिक बीरभूम के मारग्राम इलाके से करीब 200 बम बरामद किए गए हैं। पुलिस ने छापेमारी में क्रूड बम के साथ 11 लोगों को भी पकड़ा है। पुलिस की छापेमारी में मारग्राम इलाके में 4 बाल्टी में रखे गए 200 बम बरामद हुए। मारग्राम से हिंसा वाले बागटुई गांव की दूरी करीब 40 किमी है। जिले के एसपी नागेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि क्रूड बम बरामदगी को लेकर लगातार छापेमारी की जा रही है।

पश्चिमी मेदनिपुर के केशवपुर से पुलिस ने छापेमारी कर 100 क्रूड बम बरामद किए। पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह रुटीन प्रक्रिया है, कार्रवाई जारी रखेंगे। मालदा जिले के हरिश्चंद्रपुर थाना क्षेत्र के एक गांव से 4 बम बरामद हुए। जिले के कालियाचक इलाके में एक घर में बम फट गया, जिसमें तीन साल के बच्चे की मौत हो गई। उत्तर 24 परगना के जगदल थाना क्षेत्र से 8 बम बरामद किए गए हैं। जिले श्यामनगर प्रभाती संघ मैदान से तीन लोगों को अवैध हथियार के साथ गिरफ्तार किया। छापेमारी के दौरान पूर्वी बर्दवान के मेमारी और कृष्णापुर से 5 बम बरामद किए गए। इस दौरान पुलिस ने 2 व्यक्तियों को भी अरेस्ट किया।

मुर्शिदाबाद के जंगीपुर से पुलिस को दो बाल्टी बम (14 पीस) मिले। पुलिस घटना की जांच कर रही है कि आखिर बम कहां से आए। नॉर्थ दिनाजपुर के रायगंज से पुलिस को 4 पाइप बम मिले। पुलिस ने बम के साथ 3 लोगों को भी अरेस्ट किया। सभी से पूछताछ की जा रही है। कोलकाता से सटे हावड़ा के नावापल्ली में 2 राउंड बम बरामद किए गए। बम के साथ पुलिस ने एक व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया। नदिया के कृष्णानगर में छापेमारी के दौरान 14 क्रूड बम बरामद किए गए। पुलिस ने बम बनाने वाले 3 आरोपियों को भी पकड़ा।

बीरभूम हिंसा के बाद बंगाल सरकार की हो रही किरकिरी को देखते हुए ममता बनर्जी ने एक्टिंग डीजीपी मनोज मालवीय को निर्देश दिया था कि राज्य से सभी अवैध बम और हथियार बरामद किए जाएं। ममता के निर्देश के बाद से पुलिस हरकत में आ गई है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बैरकपुर-बीजपुर मंडल में टीम ज्यादा एक्टिव की गई है। यह अभियान 10 दिनों तक चलेगा। गवर्नर जगदीप धनखड़ कई बार मीडिया के सामने दावा कर चुके हैं कि बंगाल में अवैध बम फैक्ट्री भारी संख्या में फल-फूल रही है। उन्होंने पिछले दिनों बीरभूम हिंसा के दौरान वीडियो जारी कर कहा था कि बंगाल में कानून का राज खत्म हो चुका है। उनके बयान पर मुख्यमंत्री ने ऐतराज जताया था।

बंगाल में बम हमले की चपेट में मंत्री से लेकर सांसद और विधायक तक आ चुके हैं। 2021 चुनाव प्रचार करने मुर्शिदाबाद गए तत्कालीन मंत्री जाकिर हुसैन बम हमले में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। पिछले दिनों कोलकाता के पास भाजपा सांसद जगनाथ सरकार की कार पर बम से हमला किया गया था। वे इस हमले में बाल-बाल बच गए थे।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

भाजपा ने टीएमसी विधायकों पर लगाया विधानसभा में मारपीट करने का आरोप

कोलकाता (मा.स.स.). पश्चिम बंगाल विधानसभा में सोमवार को बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के विधायकों के …