मंगलवार , मई 17 2022 | 10:25:11 AM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / सोनिया गांधी और कांग्रेस के राहुल प्रेम के कारण नहीं बनी पीके की बात

सोनिया गांधी और कांग्रेस के राहुल प्रेम के कारण नहीं बनी पीके की बात

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). कांग्रेस के एक पदाधिकारी का दावा है कि प्रशांत किशोर (पीके) चाहते थे कि पार्टी प्रधानमंत्री पद के लिए अलग चेहरा और अध्यक्ष पद के लिए किसी दूसरे का चुनाव करे। पार्टी अध्यक्ष पद के लिए उन्होंने प्रियंका गांधी का नाम सुझाया था, जबकि सोनिया गांधी समेत तमाम नेता राहुल गांधी को दोबारा पार्टी चीफ बनाना चाहते थे। विचारों के इस टकराव के कारण ही पीके और कांग्रेस के रास्ते अलग हो गए।

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल ना होने को ऐलान के एक दिन बाद ही वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एके एंटनी ने कहा है कि गांधी परिवार के बिना कांग्रेस का कोई अस्तित्व नहीं बचेगा। क्षेत्रिय पार्टियों से अफील करते हुए एके एंटनी ने कहा कि अगर आप सचमुच बदलाव लाना चाहते हैं तो 2024 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस नेतृत्व को स्वीकार कीजिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को किनारे करके आप कोई दूसरा विकल्प नहीं बना सकेंगे। उन्होंने ये भी कहा कि कांग्रेस राष्ट्रीय पार्टी है और उसका वजूद कभी खत्म नहीं होने वाला है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

राजीव कुमार होंगे देश के नए मुख्य चुनाव आयुक्त

नई दिल्ली (मा.स.स.). राजीव कुमार को मुख्य चुनाव आयुक्त नियुक्त किया गया है। वे 15 …