मंगलवार , मई 17 2022 | 10:02:43 AM
Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / पोलैंड ने यूक्रेन से आने वाले भारतीयों को बिना वीजा दी आने की अनुमति

पोलैंड ने यूक्रेन से आने वाले भारतीयों को बिना वीजा दी आने की अनुमति

Follow us on:

अंतरराष्ट्रीय डेस्क (मा.स.स.). रूस और यूक्रेन के बीच जंग जारी है. कई भारतीय युद्धग्रस्त यूक्रेन में फंसे हुए हैं. अब तक 6 फ्लाइट्स भारतीयों को लेकर भारत लौट आई हैं. यूक्रेन में फंसे भारतीयों को सड़क के रास्ते पोलैंड, हंगरी और रोमानिया लाया जा रहा है और वहां से भारत भेजा जा रहा है. इस बीच भारत में पोलैंड के राजदूत ने कई अहम जानकारियां साझा की हैं. उन्होंने बताया कि करीब 2 लाख लोग बॉर्डर पार कर पोलैंड आए हैं, जिसमें भारतीय छात्र भी हैं. उन्होंने बताया कि बॉर्डर पॉइंट्स पर काफी भीड़ है लेकिन हम हर किसी का स्वागत कर रहे हैं.

रूस-यूक्रेन की जंग के बीच भारत में पोलैंड के राजदूत एडम बुराकोव्स्की ने बताया कि भारतीय छात्रों के लिए स्पेशल फ्लाइट्स होंगी. पोलैंड मदद कर रहा है और भारत के हाई लेवल डेलिगेशन की अपने नागरिकों को निकालने में भी मदद करेगा.  बिना किसी वीजा के भारतीय नागरिक पोलैंड बॉर्डर आ सकते हैं. उन्होंने आगे कहा, हम यूक्रेन के समर्थन में हैं और उसे सभी तरह की मदद देने के साथ-साथ हथियार भी मुहैया कराएंगे. पूरे यूरोपियन यूनियन का एयरस्पेस रूस के विमानों के लिए बंद हैं, जिसमें प्राइवेट जेट्स भी शामिल हैं. रूस पर जापान, अमेरिका और अन्य देशों ने प्रतिबंध लगाए हैं.

रुसी सेना ने कहा है कि यूक्रेन की राजधानी के लोग अगर शहर छोड़ना चाहते हैं तो वे सुरक्षित गलियारे का इस्तेमाल कर सकते हैं. रूस के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता मेजर जनरल इगोर कोनशनकोव ने सोमवार को कहा कि कीव के निवासी उस राजमार्ग का इस्तेमाल कर सकते हैं जो वैलसिलकिव की ओर जाता है जो यूक्रेन की राजधानी के दक्षिण पश्चिम में स्थित है.

यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब यूक्रेन के अधिकारियों ने कहा है कि वे राजधानी के अलग अलग इलाकों में रूस की सेना के साथ छोटे-छोटे समूह में लड़ रहे हैं. कोनशेनकोव ने आरोप लगाया कि यूक्रेन के ‘राष्ट्रवादी’ शहर के निवासियों को ढाल बनाकर सैन्य उपकरण तैनात कर रहे हैं. इन आरोपों को स्वतंत्र रूप से सत्यापित नहीं किया जा सका है. कोनशेनकोव ने यह भी ऐलान किया है कि रूस के सैनिकों ने ज़पोरिझझिया परमाणु संयंत्र का नियंत्रण हासिल कर दिया है. उन्होंने कहा कि संयंत्र सुरक्षित है और क्षेत्र में विकिरण का स्तर सामान्य बना हुआ है.

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

पाकिस्तान में दो सिखों की अज्ञात हमलावरों ने गोली मार की हत्या

इस्लामाबाद (मा.स.स.). पाकिस्तान के पेशावर में 2 सिखों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। …