सोमवार , मई 16 2022 | 10:31:01 AM
Breaking News
Home / राज्य / जम्मू और कश्मीर / पत्रकार से आतंकवादी बने रईस अहमद भट्ट को सुरक्षाबलों ने दी मौत

पत्रकार से आतंकवादी बने रईस अहमद भट्ट को सुरक्षाबलों ने दी मौत

Follow us on:

जम्मू (मा.स.स.). जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। सुरक्षाबलों ने श्रीनगर मुठभेड़ में दो आतंकियों को मार गिराया है। आतंकियों के पास हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया है। साथ ही कुछ आपत्तिजनक सामग्री भी मिली है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि श्रीनगर शहर के रैनावाड़ी इलाके में बुधवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के दो आतंकवादी मारे गए। पुलिस अधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी के रैनावारी इलाके में पुराने शहर की घेराबंदी और तलाशी अभियान के बाद आधी रात के करीब आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई।

उन्होंने कहा कि मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए।कश्मीर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा कि मारे गए दोनों आतंकी स्थानीय थे। इनमें से एक आतंकी की पहचान रईस अहमद भट के रूप में हुई है, जो एक पूर्व पत्रकार था, वह अनंतनाग में एक ऑनलाइन समाचार पोर्टल ‘वैली न्यूज सर्विस’ चलाता था। उसके पास से प्रेस कार्ड मिला है। कार्ड के अनुसार, मारा गया आतंकी रईस अहमद भट समाचार एजेंसी वैली न्यूज सर्विस का प्रधान संपादक था। जानकारी मिली है कि भट पिछले साल अगस्त में लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी संगठन में शामिल हुआ था।

जम्मू-कश्मीर पुलिस की आतंकवादियों की सूची में भट ‘सी’ कैटेगरी में शामिल किया गया था। पुलिस के अनुसार, उसके खिलाफ पहले से ही दो मामले दर्ज थे। कश्मीर के आईजीपी विजय कुमार ने कहा कि पूर्व पत्रकार की संलिप्तता मीडिया के दुरुपयोग का एक स्पष्ट मामला है। मुठभेड़ में मारे गए दूसरे आतंकवादी की पहचान बिजबेहरा निवासी हिलाल अहमद रहम के रूप में हुई है। हिलाल भी ‘सी’ कैटेगरी का आतंकवादी था। आईजीपी विजय कुमार ने कहा कि दोनों नागरिक हत्याओं सहित कई हालिया आतंकी अपराधों में शामिल थे। जम्मू-कश्मीर पुलिस के अनुसार मुठभेड़ स्थल से हथियार और गोला-बारूद सहित आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

सुरक्षाबलों ने पहले खोजी लम्बी सुरंग और अब 265 फीट लंबा ऑक्सीजन पाइप

जम्मू (मा.स.स.). पाकिस्तान की नापाक हरकतों को सीमा पर तैनात भारतीय जवान लगातार कुचलते आ …