मंगलवार , मई 17 2022 | 09:10:21 AM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / यूपी बोर्ड का अंग्रेजी का पेपर लीक होने पर कई जिलों में परीक्षा रद्द

यूपी बोर्ड का अंग्रेजी का पेपर लीक होने पर कई जिलों में परीक्षा रद्द

Follow us on:

लखनऊ (मा.स.स.). यूपी बोर्ड की 12वीं का अंग्रेजी का पेपर लीक हो गया है। इसके बाद 24 जिलों में परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया गया है। यह परीक्षा आज दोपहर दो बजे आयोजित होने वाली थी। परीक्षा रद्द होने के बाद अगली तारीख का एलान अभी नहीं हुआ है। इसके बारे में बोर्ड जल्द ही सूचना जारी कर सकता है। बलिया के जिला विद्यालय निरीक्षक ब्रजेश कुमार मिश्रा को निलंबित किया गया। विभाग की मंत्री गुलाब देवी के निर्देश पर पेपर लीक प्रकरण में डीआईओएस को निलंबित किया गया है।

इस संबंध में शिक्षा निदेशक एवं सभापति माध्यमिक शिक्षा परिषद के विनय कुमार पाण्डेय ने आदेश जारी कर परीक्षा के निरस्त होने की जानकारी दी है। आदेश में यह भी साफ बताया गया है कि इन 24 जनपदों को छोड़कर बाकी जगह पर परीक्षा यथावत आयोजित की जाएगी।
बोर्ड ने जो निर्देश जारी किए हैं उसमें पेपर के जनपद बलिया से लीक होने की आशंका व्यक्त की गई है। जो पेपर लीक हुआ है उनकी पहचान 316 ई डी और 316 ई आई के सीरीज के रूप में की गई है।

जिन जिलों में परीक्षा रद्द की गई है, उनमें बलिया, एटा, बागपत, बदायूं, सीतापुर, कानपुर देहात, ललितपुर, चित्रकूट, प्रतापगढ़,  गोंडा,  आजमगढ़,  आगरा, वाराणसी, मैनपुरी, मथुरा, अलीगढ़, गाजियाबाद, शामली, शाहजहांपुर, उन्नाव, जालौन, महोबा, आंबेडकरनगर और गोरखपुर शामिल हैं। शेष अन्य 51 जिलों में परीक्षा निर्धारित समय पर आयोजित होगी। बदायूं में परीक्षा रद्द कर दी गई, परीक्षा रद्द होने का निर्देश दोपहर डेढ़ बजे उस वक्त आया जब निरीक्षक कक्षा में पहुंच चुके थे और परीक्षार्थी गेट पर आ गए थे।

अलीगढ़ में प्रश्नपत्र लीक होने पर परीक्षार्थियों ने कहा कि उन्हें परीक्षा केंद्र पर आकर परीक्षा निरस्त होने की जानकारी मिली। डीआईओएस डॉ. धर्मेंद्र शर्मा ने कहा कि परीक्षा की तिथि बोर्ड से जल्द ही घोषित की जाएगी। अलीगढ़ के टीकाराम कन्या इंटर कॉलेज परीक्षा केंद्र पर परीक्षा निरस्त होने की खबर मिलने पर छात्राएं मायूस हो गईं। पेपर लीक होने पर यूपी सरकार ने कड़ी कार्रवाई करने के आदेश जारी किए हैं। पेपर लीक कांड की जांच एसटीएफ द्वारा की जाएगी। इसके साथ ही दोषियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जाएगी।

वहीं नकल माफियाओं की तलाश में टीमें जोर-शोर से जुटी हुई हैं। हालांकि पुलिस को खास सफलता नहीं मिली है, लेकिन कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इधर, बलिया जिला प्रशासन ने हाईस्कूल संस्कृत का पेपर आउट होने से इनकार किया है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

हिन्दू पक्ष का दावा, ज्ञानवापी में मिले मूर्तियों के अवशेष

लखनऊ (मा.स.स.). वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद का दूसरे दिन का सर्वे का काम पूरा हो …