सोमवार , सितम्बर 27 2021 | 07:25:55 PM
Breaking News
Home / अन्य राज्य : गोवा में विरोध के बाद नौसेना ने रद्द किया तिरंगा फहराने का कार्यक्रम

अन्य राज्य : गोवा में विरोध के बाद नौसेना ने रद्द किया तिरंगा फहराने का कार्यक्रम

पणजी (मा.स.स.). गोवा के साओ जैसिटों द्वीप पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के विरोध का मामला गरमाता जा रहा है। राज्य के सीएम ने साफ किया है कि स्वतंत्रता दिवस के दिन किसी भी कीमत पर द्वीप पर राष्ट्रीय ध्वज फरहाया जाएगा। इससे पहले नौसेना ने कहा है कि उसने स्वतंत्रता दिवस पर दक्षिण गोवा के साओ जैसिंटो द्वीप पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अपनी योजना को स्थानीय निवासियों के विरोध के बाद रद्द कर दिया है। हालांकि, राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने नौसेना अधिकारियों से तिरंगा फहराने के कार्यक्रम को जारी रखने का अनुरोध किया है और द्वीपवासियों को चेतावनी दी कि भारत विरोधी गतिविधियों से सख्ती से निपटा जाएगा।

गोवा में दाबोलिम के पास नौसेना के आईएनएस हंस बेस के प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहा था कि गोवा नौसेना क्षेत्र की एक टीम ने इस अखिल भारतीय पहल के तहत साओ जैसिंटो द्वीप सहित गोवा के द्वीपों का दौरा किया। उन्होंने कहा, जैसिंटो द्वीप पर योजना को रद्द करना पड़ा क्योंकि निवासियों ने इसका विरोध किया था। यह द्वीप तटीय राज्य के दक्षिण गोवा जिला में वास्को शहर के पास है। नौसेना के अधिकारी ने कहा कि 75वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में लोगों में देशभक्ति की भावना को भरने और कार्यक्रम के आयोजन के उद्देश्य से राष्ट्रव्यापी ‘आजादी का अमृत महोत्सव पहल शुरू की गई है। जिस जगह पर नौसेना झंडा फहराने का कार्यक्रम करने वाली थी, उस जमीन के मालिक एंथनी रोड्रिग्ज ने कहा कि कार्यक्रम के लिए वह पहले ही नौसेना को अपनी स्वीकृति दे चुके हैं लेकिन कुछ स्थानीय लोगों ने कार्यक्रम को लेकर आपत्ति जताई है।

झंडा फहराने के कार्यक्रम को रद्द करने के संबंध में नौसेना की घोषणा पर प्रतिक्रिया करते हुए मुख्यमंत्री सावंत ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ”यह दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक है कि जैसिंटो द्वीप पर कुछ लोग नौसेना के झंडा फहराने के कार्यक्रम पर आपत्ति कर रहे हैं। मैं इसकी निंदा करता हूं और बताना चाहता हूं कि उनकी सरकार इस तरह के कृत्यों को बर्दाश्त नहीं करेगी।’ उन्होंने कहा, ‘मैंने नौसेना से अपनी मूल योजना पर आगे बढ़ने का अनुरोध किया है और गोवा पुलिस से उन्हें पूरा सहयोग किए जाने का भरोसा दिया है। भारत विरोधी इस तरह के प्रयास से सख्ती से निपटा जाएगा। हमेशा राष्ट्र प्रथम रहेगा।’सलगांव में शनिवार को आयोजित एक रैली से इतर मुख्यमंत्री ने कहा, ”झंडा फहराने का कार्यक्रम किसी भी कीमत पर होगा और मैंने अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है वहां झंडा फहराने का कार्यक्रम हो।’