शुक्रवार , अप्रेल 12 2024 | 04:38:14 PM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / श्रीमदभगवद गीता की आस्था में बनाई 176 किमी लम्बी मानव श्रृंखलाएं

श्रीमदभगवद गीता की आस्था में बनाई 176 किमी लम्बी मानव श्रृंखलाएं

Follow us on:

कानपुर (मा.स.स.). 4 दिसम्बर रविवार गीता जयन्ती के पावन दिवस पर एक लाख लोग द्वारा ग्रीन पार्क में सामूहिक गीता पाठ के लिये, लोगों को आमन्त्रित करने एवं पूरे माह गीतामय वातावरण बनाने के उद्देश्य से बनायी गयी “गीता संदेश मानव श्रृंखला” गीता प्रेमियों एवं छात्रों के अति उत्साह के कारण अपने निर्धारित लक्ष्य 151 किलोमीटर को पार कर लगभग 176 किलोमीटर बनी। विभिन्न स्थानों पर लोगों एवं छात्रों ने गीता के महत्व पर प्रकाश डालते हुये उद्घोष जोर-जोर से उत्साह के साथ बोल रहे थे। साउन्ड सिस्टम द्वारा गीता सम्बन्धी गीता व श्लोकों का पाठ भी विभिन्न स्थानों पर हो  रहा था। गीता की महत्ता व आगामी 4 दिसम्बर गीता जयन्ती पर ग्रीन पार्क में होने वाले एक लाख लोगों द्वारा सामूहिक पाठ के विषय में बताकर, उसमें शमिल होने का अनुरोध कर रहे थे। विभिन्न शक्षण संस्थाओं ने मानव श्रृंखला निमार्ण से पूर्व अपने प्रांगणों में सभी छात्रों को एकत्र कर भी यह सब कार्य किया ।

शहर के समस्त क्षेत्रों व शहर के बाहर विभिन्न जिलों कानपुर देहात, कन्नौज, औरेया, हमीरपुर, महोबा, झॉंसी, प्रयाग, कौशाम्बी, चित्रकूट आदि में भी मानव श्रृंखला बनायी गयी। शहर के विभिन्न क्षेत्रां में शैक्षिक व अन्य संगठनों ने स्टेज सजाकर इस कार्यक्रम को भव्यता प्रदान की तथा कई स्कूलों, पार्को में, गीता तथा स्वास्तिक, ओम् के आकार की भी मानव श्रृंखला बनायी गयी, इसमें मुख्य रूप से यूं0ही0 पब्लिक स्कूल, सनिंगवा, कामदगिरी ग्रुप आफ स्कूल में पॉच मानोहारी झांकियां भी प्रदर्शित की गयी। अनेक स्थानों पर छात्रां तथा नौजवानों को उपयोगी 25 हजार लघु सरल 75 श्लोकों की गीता का निःशुल्क वितरण किया गया। आगामी 30 दिनों में 2 लाख से अधिक लघु सरल गीता को स्कूलों, कालेजों आदि में सभी भागीदार छात्रों व स्टाफ को शत प्रतिशत वितरित किया जायेगा तथा अन्य संगठनों में विभिन्न गीता गोष्ठियों के माध्यम से वितरित की जायेगी। इस वैश्विक मानव ग्रन्थ द्वारा लोगों के जीवन को तनावरहित , मिलजुल आगे बढ़ने की प्रेरणा व शांति का सन्देश से प्रभावित विभिन्न सम्प्रदायों ने बढ़-चढ़ कर भागीदारी की।

समिति के सदस्यों ने बताया कि गीता द्वारा ही विश्व की समस्याओं का हल हो सकता है तथा भारत का पुराना गौरव लौट सकता है। भारत का विकसित, खुशहाल तथा विश्व का आध्यात्मिक गुरू बनने का सपना पूरा हो सकता है। यह गीता के पठन-पाठन, चिन्तन मनन तथा गीतामयी जीवन जीने, कर्मयोगी बनकर, समय का सद्पयोग कर पहले व्यक्ति का निर्माण, परिवार निर्माण फिर राष्ट्र निर्माण की संकल्पना पूर्ण होगी। अधिकारों के साथ कर्तव्यों का बोध होने पर, देश में दूसरे से अपेक्षा की जगह, अपना पूरा योगदान देंगे। इस प्रकार स्वयं उदाहरण बनकर दूसरे को प्रेरित करेंगे। इस गीता संदेश मानव श्रृंखला निमार्ण में समिति के दायित्वधारियों, कार्यकर्ताओं के साथ विभिन्न गणमान्य, बुद्विजीवियों ने जाकर मानव श्रृंखला के स्थानीय आयोजकों, संयोजकों तथा उपस्थित लोगों- छात्रों का उत्साहवर्धन किया। मानव श्रृंखला निमार्ण में प्रमुख रूप से भवानी भीख तिवारी, डा0 उमेश पालीवाल, संजीव पाठक, अमरनाथ, कमल त्रिवेदी, श्रीकृष्ण कुमार दुबे, अवध बिहारी मिश्र, भूपेश अवस्थी, बलराम नरूला, गुलशन धूपर, के. ए. दुबे पद्मेश, शेष नारायण त्रिवेदी ,अखिलेश शुक्ला, अमित अग्रवाल , उमेश निगम, डा0 रोचना विश्नोई, श्यामबाबू गुप्ता, सुरेन्द्र गेरा, मुकुन्द मिश्रा, ज्ञानेश मिश्रा, डा0 विकास विक्टर, अजय दुबे, मनोज सेंगर, अरूणपुरी आदि ने सक्रिय दायित्वों का निर्वहन किया की।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

पत्नी के साथ भाजपा में शामिल हुए उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी विजय कुमार

लखनऊ. लोकसभा चुनाव के पूर्व भाजपा में शामिल होने वाले नेताओं का सिलसिला जारी है। …