शुक्रवार , अगस्त 19 2022 | 03:48:46 PM
Breaking News
Home / खेल / भारत ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 के 8वें दिन 3 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य सहित 6 पदक जीते

भारत ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 के 8वें दिन 3 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य सहित 6 पदक जीते

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). भारतीय कुश्ती दल ने खासा असाधारण प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रमंडल खेल 2022 के 8वें दिन 6 पदक जीते जिनमें 3 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य शामिल है। पुरुषों की फ्रीस्टाइल 65 किग्रा कुश्ती में बजरंग पूनिया, पुरुषों की फ्रीस्टाइल 86 किग्रा कुश्ती में दीपक पूनिया और महिला फ्रीस्टाइल 62 किग्रा कुश्ती में साक्षी मलिक ने स्वर्ण पदक जीते हैं। अंशु मलिक ने महिला फ्रीस्टाइल 57 किग्रा कुश्ती में रजत, जबकि महिला फ्रीस्टाइल 68 किग्रा कुश्ती में दिव्या काकरान ने और पुरुषों की फ्रीस्टाइल 125 किग्रा कुश्ती में मोहित ग्रेवाल ने कांस्य पदक जीते।

9 स्वर्ण, 8 रजत और 9 कांस्य पदक के साथ भारत की पदक तालिका 26 तक पहुंच गई है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर और देश के कोने-कोने से भारत के लोगों ने इन पदक विजेताओं को उनकी उपलब्धियों के लिए बधाइयां दीं।राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कुश्ती दल को पदक जीतने पर बधाई दी। राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, “साक्षी मलिक ने राष्ट्रमंडल खेलों में कुश्ती में ऐतिहासिक स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने कड़ी चुनौती को पार किया और भारतीयों को गौरवान्वित किया। आप हमारे युवाओं, खासकर लड़कियों के लिए एक आदर्श हैं। आप कामयाबी की और सीढ़ियां चढ़ें। हार्दिक बधाई!”

एक अन्य ट्वीट में राष्ट्रपति ने कहा, “राष्ट्रमंडल खेलों में कुश्ती में लगातार दूसरा स्वर्ण जीतने और इतिहास रचने के लिए बजरंग पूनिया को बधाई। आपकी निरंतरता, समर्पण और उत्कृष्टता हमारे युवाओं के लिए प्रेरणादायक है। आपके स्वर्ण पदक दरअसल सर्वश्रेष्ठ बनने की आपकी ललक, और नए भारत की भावना को दर्शाते हैं।” दीपक को बधाई देते हुए राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, “हमारे युवा पहलवान दीपक पूनिया को राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के लिए बधाई। आपका आत्मविश्वास और सकारात्मक दृष्टिकोण देखने में बेहद प्रभावशाली था। आपने भारत को बहुत खुशी और मान दिलाया है।”

अंशु को बधाई देते हुए राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, “राष्ट्रमंडल खेलों में कुश्ती में रजत पदक जीतने के लिए अंशु मलिक को बधाई। आपने सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय पहलवानों में से एक के तौर पर अपनी योग्यता साबित की है। आपके सभी भावी प्रयासों के लिए मेरी शुभकामनाएं।” दिव्या को बधाई देते हुए राष्ट्रपति ने ट्वीट में कहा, “दिव्या काकरान को राष्ट्रमंडल खेलों में कुश्ती में कांस्य पदक जीतने के लिए बधाई। आपकी अचूक दृढ़ता और फुर्ती ने भारत को दिल खुश करने वाली जीत दिलाई। आप जैसे हमारे युवा पहलवान भारतीय खेलों के भविष्य के लिए संभावनाओं से भरपूर हैं।”

राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, “एक और प्रतिभाशाली युवा पहलवान मोहित ग्रेवाल ने राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीतकर भारत को गौरवान्वित किया है। आप जहां हैं वहां पहुंचने के लिए आपने कई चुनौतियों को पार किया है। ये देश कामना करता है कि आप भविष्य में ऐसे कई और सम्मान लाएंगे।” प्रधानमंत्री ने भी पहलवानों को इतने शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया; “हमारे एथलीट सीडब्ल्यूजी बर्मिंघम में हमें लगातार गौरवान्वित कर रहे हैं। साक्षी मलिक के शानदार खेल प्रदर्शन से रोमांचित हूं। मैं उन्हें प्रतिष्ठित स्वर्ण पदक जीतने के लिए बधाई देता हूं। वे प्रतिभा का भंडार है और उनमें जबरदस्त दृढ़ता है।”

बजरंग को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, “प्रतिभाशाली बजरंग पूनिया निरंतरता और उत्कृष्टता के पर्याय हैं। उन्होंने बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता। उन्हें इस उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए बधाई। ये उनका लगातार तीसरा सीडब्ल्यूजी मेडल है। उनकी भावना और आत्मविश्वास प्रेरणा देने वाले हैं। मेरी शुभकामनाएं हमेशा आपके साथ हैं।” एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा, “हमारे अपने दीपक पूनिया द्वारा शानदार खेल प्रदर्शन पर गर्व की अनुभूति हो रही है! वे भारत का गौरव हैं और उन्होंने भारत को कई सम्मान दिलाए हैं। उनके इस स्वर्ण पदक को जीतने से हर भारतीय उत्साहित है। उन्हें उनके आगामी प्रयासों के लिए शुभकामनाएं।”

अंशु को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ”अंशु मलिक को कुश्ती में रजत पदक जीतने पर बधाई, जो उन्होंने अपने जन्मदिन पर जीता है। आगे की कामयाब खेल यात्रा के लिए उन्हें मेरी शुभकामनाएं। खेलों के प्रति उनका जुनून कई आगामी एथलीटों को प्रेरित करेगा।” दिव्या को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, “भारत के पहलवान बेहद शानदार हैं और ये राष्ट्रमंडल खेलों में साफ तौर पर नज़र आ रहा है। दिव्या काकरान के कांस्य पदक जीतने पर गर्व है। इस उपलब्धि को आने वाली पीढ़ियां याद रखेंगी। उन्हें भविष्य के सब प्रयासों के लिए शुभकामनाएं।”

एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा, “हमारे पहलवानों ने असाधारण फॉर्म दिखाई है। इस पदक तालिका में मोहित ग्रेवाल का नाम भी जुड़ गया है। जब वे अपने देश के लिए कांस्य पदक ला रहे हैं तो उनका तीखा फोकस हटकर नजर आता है। उन्हें बधाई। मुझे उम्मीद है कि वे आने वाले समय में सफलता की नई ऊंचाइयों को छुएंगे।” केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सभी पदक विजेताओं को बधाई और शुभकामनाएं दीं। ठाकुर ने ट्वीट किया: “शानदार प्रदर्शन साक्षी मलिक! भारत को स्वर्ण दिलाने के लिए आपने अपने कौशल का उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। सीडब्ल्यूजी 2018 में कांस्य जीतने के बाद सीडब्ल्यूजी 2022 में स्वर्ण जीतने तक आपकी यात्रा आपके लगातार फोकस और समर्पण को दिखाती है। आप एक चैंपियन की तरह खेलीं, जब तक कि आपने पदक हासिल नहीं कर लिया!”

पूनिया को बधाई देते हुए ठाकुर ने ट्वीट किया, “बजरंग पूनिया ने फिर से कर दिखाया है!!! सीडब्ल्यूजी 2022 में कुश्ती में पहला स्वर्ण पदक घर लाने पर बधाई! बजरंग ने 10 मिनट 14 सेकेंड के समय में राष्ट्रमंडल खेलों का अपना ये स्वर्ण पदक पक्का किया। राष्ट्रमंडल खेलों में आपकी हैट्रिक साबित करती है कि आपके पास एक चैंपियन वाली निरंतरता है!” एक अन्य ट्वीट में ठाकुर ने कहा, “भारत स्वर्ण जीतने की राह में कुश्ती लड़ता चल रहा है! दीपक पूनिया को स्वर्ण जीतने पर बधाई जो आपने उल्लेखनीय दृढ़ता से जीता है! हमें आप पर गर्व है चैंपियन!”

अंशु को बधाई देते हुए खेल मंत्री ने ट्वीट किया, “बड़े उत्साह की बात है कि अंशु मलिक ने अपने पहले राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीता है! आपके सामने एक कठिन प्रतिद्वंद्वी थी लेकिन आपने उसे जबरदस्त टक्कर दी। ये पदक डबल सेलिब्रेशन का कारण है क्योंकि आज आपका जन्मदिन है! साई एनसीओई सोनीपत में आपकी फोकस्ड ट्रेनिंग और विदेशी एक्सपोजर ने ये परिणाम दिलाए हैं।” एक अन्य ट्वीट में ठाकुर ने कहा, “मोहित ग्रेवाल की कांस्य पदक जीत, सब बाधाओं को दूर करने और अपने लक्ष्य तक पहुंचने में उनके दृढ़ संकल्प का प्रमाण है। दो साल की चोट के बाद मोहित ने अपने पहले राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतने के लिए सहजता से लड़ाई लड़ी। ये तो कई और जीत की शुरुआत है। बधाई हो मोहित।”

दिव्या को बधाई देते हुए ठाकुर ने ट्वीट किया, “30 सेकेंड में एक पदक! यही भारत की दिव्या काकरान ने सीडब्ल्यूजी 2022 में करके दिखाया है!!! आधे मिनट में कांस्य पदक जीता और चैंपियन बनकर उभरीं। वे साई एनसीओई लखनऊ कैंप से जुड़ी रही हैं और दुनिया के नक्शे पर भारत को गौरवान्वित किया है। सीडब्ल्यूजी 2022 में भारतीय पहलवान एक बड़ी ताकत साबित हो रहे हैं!”

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

राष्ट्रमंडल खेल – 2022 के सातवें दिन भारत को मिला एक और स्वर्ण

नई दिल्ली (मा.स.स.). राष्ट्रमंडल खेल, 2022 के 7वें दिन पुरुषों की हैवीवेट स्पर्धा में स्वर्ण …