शुक्रवार , मार्च 01 2024 | 03:58:18 PM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / “आज़ाद भारत की बात – आकाशवाणी के साथ” – पिछले 75 वर्ष में भारत की जीवंत यात्रा सुनिए

“आज़ाद भारत की बात – आकाशवाणी के साथ” – पिछले 75 वर्ष में भारत की जीवंत यात्रा सुनिए

Follow us on:

निम्न समाचार सुनने के लिए listen के बटन पर क्लिक करें.

नई दिल्ली (मा.स.स.). ये आकाशवाणी है
अब आप ….. से समाचार सुनिए

स्वतंत्रता  के समय से ही पिछले 75 वर्ष के दौरान  भारत  का सबसे बड़ा लोक सेवा प्रसारक आज देश की एक अरब तीस करोड़ जनसंख्या के लिए लोक प्रसारण कर रहा है। आकाशवाणी अनूठी पहल के साथ स्वतंत्रता के 75 वर्ष का उत्सव मना रहा है। इसका शीर्षक है  “आज़ाद भारत की बात आकाशवाणी के साथ”।

यह 15 अगस्त, 2022 से आरंभ हो रहा है। डेढ़ मिनट की यह कड़ी 100.1 एफ एम गोल्ड चैनल, मुख्य समाचार बुलेटिनों और  सोशल मीडिया सहित सभी मंचों से प्रसारित की जाएगी। इसमें आकाशवाणी  से जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में स्वतंत्र भारत की उपलब्धियों की जानकारी दी जाएगी।

स्वतंत्रता के समय राष्ट्र के उदय से लेकर आधुनिक भारत के महाशक्ति के रूप में उभरने तक ऐतिहासिक यात्रा का प्रसारण आकाशवाणी  से किया जाएगा। इनमें महात्मा गांधी, होमी जहांगीर भाभा, सर सी वी रमन, डॉक्टर कुरियन वर्गीज, डॉक्टर एम एस स्वामीनाथन, पंडित भीम सैन जोशी, मेलविन डी मेलो और जसदेव सिंह जैसी हस्तियों की आवाज़ शामिल हैं। प्रतिदिन एक विशेष कहानी प्रसारित की जाएगी और इंस्टाग्राम,

ट्विटर, फेसबुक और यू ट्यूब सहित आकाशवाणी के सभी सोशल मीडिया हैंडल पर अपलोड की जाएगी। इसे आप ट्विटर पर
@AkashvaniAir और @airnewsalerts से भी सुन सकते हैं। यह आकाशवाणी के आधिकारिक यू ट्यूब चैनल newsonair.gov.in, NewsonAir App, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर भी उपलब्ध रहेगा।

8 जून, 1936 को आरंभ से ही आकाशवाणी प्रथम स्वतन्त्रता दिवस सहित 1947 से बांग्लादेश की मुक्ति और विश्व कप क्रिकेट में भारत के इतिहास रचने तक देश के इतिहास का साक्षी रहा है।  आकाशवाणी विश्व के सबसे बड़े प्रसारण संगठनों में शामिल है जो 23 भाषाओं और 179 बोलियों में देशभर के 479 केंद्रों से प्रसारण करता है। यह देश के लगभग 92 प्रतिशत क्षेत्र और 99.19 प्रतिशत जनसंख्या तक पहुंचता है।

इसका ध्येय है “बहुजन हिताय: बहुजन सुखाय” जिसका अर्थ है “बहुतों की प्रसन्नता के लिए, बहुतों के कल्याण के लिए” I
श्रोताओं से आग्रह है कि बीते वर्षों के इन गौरवमयी पलों को फिर से जीने के लिए तैयार रहें और आकाशवाणी के सोशल मीडिया हैंडल को फॉलो करें।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

गगनयान के साथ अंतरिक्ष में जाने वाले 4 एस्ट्रोनॉट्स के नाम हुए घोषित

तिरुवनंतपुरम. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को केरल के तिरुवनंतपुरम स्थित विक्रम साराभाई स्पेस सेंटर (VSCC) …