शुक्रवार , सितम्बर 30 2022 | 02:52:34 PM
Breaking News
Home / व्यापार / एनटीपीसी ने सौर ऊर्जा क्षेत्र में 69454 मेगावॉट स्थापित क्षमता की हासिल

एनटीपीसी ने सौर ऊर्जा क्षेत्र में 69454 मेगावॉट स्थापित क्षमता की हासिल

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम-एनटीपीसी लिमिटेड, भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी ने 15.08.2022 को एनटीपीसी कवास, गुजरात में 56 मेगावाट कावास सोलर पीवी परियोजना की कमीशनिंग के साथ 69454 मेगावॉट समूह स्थापित और वाणिज्यिक क्षमता हासिल की।

राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम अपने मौजूदा स्टेशनों में अक्षय ऊर्जा परियोजनाओं की स्थापना के साथ-साथ ग्रीन फील्ड नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं को स्थापित करके ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को कम करके अपने कार्बन उत्सर्जन को लगातार कम कर रहा है। कंपनी ने अपने विभिन्न स्टेशनों पर 9,50,000 से अधिक पीवी मॉड्यूल स्थापित करके अपने जलाशय क्षेत्र के 1300 एकड़ से अधिक भाग पर 262 मेगावाट फ्लोटिंग सोलर ऊर्जा स्थापित करने की योजना बनाई है, जिसमें से 242 मेगावाट का सन्यंत्र चालू किया गया है।

इसमें तेलंगाना के रामागुंडम में 100 मेगावाट, केरल के कायमकुलम में 92 मेगावाट और आंध्र प्रदेश के सिम्हाद्री तथा गुजरात के कावास में 25 मेगावाट का देश का सबसे बड़ा फ्लोटिंग सौर ऊर्जा संयंत्र शामिल है। ये परियोजनाएं 2,00,000 से अधिक घरों को रोशन करेंगी और वार्षिक आधार पर आधा मिलियन टन से अधिक कार्बन डाई ऑक्साइड उत्सर्जन को कम करने में सहायक होंगी। इनके अलावा, परियोजनाओं से प्रति वर्ष 5 ट्रिलियन लीटर पानी की बचत होगी, जो 15,000 घरों की वार्षिक पानी की जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त है।

एनटीपीसी अपने ऊर्जा सघन लक्ष्यों की घोषणा करने वाली दुनिया की पहली ऊर्जा कंपनी बन गई है। हाल ही में इसने ‘नेट ज़ीरो’ लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए नीति आयोग के साथ सहयोग किया है। एनटीपीसी समूह की वर्ष 2032 तक 60 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा प्राप्त करने की योजना है। वर्तमान में, एनटीपीसी के पास कार्यान्वयन और निष्पादन के तहत 3.9 गीगावाट के साथ 2.3 गीगावाट चालू नवीकरणीय क्षमता है। एनटीपीसी के पास निविदा प्रक्रिया के तहत 4.9 गीगावॉट अक्षय ऊर्जा क्षमता भी है जो भारत के सबसे बड़े बिजली उत्पादक के हरित ऊर्जा पोर्टफोलियो को और मजबूत करेगी।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

कोल इंडिया ने कोयला से रासायनिक उत्पादों के लिए किया समझौता

नई दिल्ली (मा.स.स.). भूतल कोयला गैसीकरण (एससीजी) मार्ग के माध्यम से कोयला-से-रासायनिक परियोजनाओं की स्थापना …