रविवार , फ़रवरी 05 2023 | 10:49:07 PM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / जेएनपीए ने प्रमुख पत्‍तनों के अधिकारियों के लिए ‘ओरिएन्‍टेशन कार्यक्रम’ की मेजबानी की

जेएनपीए ने प्रमुख पत्‍तनों के अधिकारियों के लिए ‘ओरिएन्‍टेशन कार्यक्रम’ की मेजबानी की

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). जवाहरलाल नेहरू पत्‍तन प्राधिकरण (जेएनपीए) भारत का सबसे अच्छा कार्य प्रदर्शन करने वाला पत्‍तन है, जो जेएनपीए प्रशिक्षण केंद्र में ‘प्रमुख पत्‍तन अधिकारियों के लिए ओरिएन्टेंशन कार्यक्रम’ का आयोजन कर रहा है। दो सप्ताह का यह कार्यक्रम 28 नवंबर, 2022 से शुरू हुआ है और 9 दिसंबर, 2022 को समाप्त होगा। पोत परिवहन की पूर्व महानिदेशक और भारतीय समुद्री विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. मालिनी शंकर ने इस ओरिएन्‍टेंशन कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस अवसर पर जेएनपीए के अध्यक्ष संजय सेठी, आईएएस, जेएनपीएके उपाध्‍यक्ष उन्मेश शरद वाघ, आईआरएस, एमपीएसईजेड के पूर्व निदेशक और जेएनपीए के सलाहकार राजीव सिन्हा, विशेषज्ञ संकाय सदस्य और भारत के प्रमुख बंदरगाहों के सभी प्रतिभागी उपस्थित थे।

जेएनपीए द्वारा प्रमुख पत्‍तन अधिकारियों के लिए आयोजित यह ओरिएन्टेंशन कार्यक्रम अपनी तरह की पहली पहल है जिसे पत्‍तन, नौवहन और जलमार्ग मंत्रालय द्वारा सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों के संकायों को भारत के सभी प्रमुख पत्‍तनों के अधिकारियों को अपनी विशेषज्ञता साझा करने के लिए एक मंच पर लाया गया है। इसके अलावा इसका उद्देश्‍य हमारे देश के पत्‍तन क्षेत्र के संचालन और कार्य करने के तरीके में नया पैटर्न लाना भी है। इस अवसर पर संबोधित करते हुए पोत परिवहन की पूर्व महानिदेशक और भारतीय समुद्री विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. मालिनी शंकर ने कहा कि जेएनपीए ने एक सराहनीय पहल की है क्योंकि यह प्रशिक्षण सत्र में विशेषज्ञ संकायों से एक अलग दृष्टिकोण प्राप्‍त होगा, जो सभी प्रमुख पत्‍तन अधिकारियों की दक्षताओं को बढ़ाने और अधिक कुशल बनाने में मदद करेगा। राजस्व मॉडल, स्वामित्व मॉडल, पत्‍तन क्षेत्र में पीपीपी, लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति श्रृंखला आदि जैसे विभिन्न विषय उन्हें उद्योग की मांगों और अपेक्षाओं को पूरा करने में सक्षम बनाएंगे।

अपने संबोधन में जेएनपीए के अध्‍यक्ष श्री संजय सेठी, आईएएस, ने कहा, कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को विशेष रूप से मौजूदा तेज गति वाले कामकाजी माहौल में 360 डिग्री शिक्षण की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। दो सप्ताह में, मुख्‍य क्षेत्र विशेषज्ञ संकाय प्रासंगिक विषयों और विविध विषयों को शामिल करते हुए प्रभावी रूप से पत्‍तन का समग्र अवलोकन प्रदान करेंगे। इस ओरिएंटेशन कार्यक्रम में पत्‍तन क्षेत्र के समग्र विकास के लिए शिक्षण और भागीदारी करने की इच्छा का समावेश शामिलहै। प्रशिक्षण कार्यक्रम के पहले सप्ताह का विषय है – पत्‍तन संचालन और इकोसिस्‍टम। सरकार, निजी क्षेत्र और पोर्ट ऑफ एंटवर्प इंटरनेशनल के तीन दशकों से अधिक के अनुभवी और विशेषज्ञ संकाय प्रशिक्षण सत्रों का नेतृत्व करेंगे। दूसरे सप्ताह का विषय है – ‘प्रबंधकीय प्रभावशीलता’, जिसमें आईआईएम इंदौर के अनुभवी प्रोफेसर प्रतिभागियों का मार्गदर्शन करेंगे। प्रशिक्षण सत्रों के दौरान सेज, एमएमएलपी आदि जैसे विषयों पर पैनल चर्चा आयोजित की जाएगी और प्रतिभागियों के लिए क्षेत्र भ्रमण भी आयोजित किए जाएंगे।

दो सप्ताह में, प्रतिभागियों को वित्त, संचालन, डिजिटलीकरण, ड्रेजिंग, पत्‍तन में निजी क्षेत्र की भागीदारी, रणनीति और इसकी व्यावसायिक इकाई से संबंधित व्यापक क्षेत्रों से लेकर बंदरगाह तक का समग्र अवलोकन कराया जाएगा। पीपीपी परियोजनाओं की पहचान, रियायत समझौते की अवधारणा, अच्छे परियोजना अनुबंधों की विशेषताएं और निगरानी के साथ-साथ अन्य विभिन्न विषयों पर भी संकाय जानकारी प्रदान करेंगे।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

खादी उत्सव 2023 का उद्घाटन खादी और ग्रामोद्योग आयोग के मुंबई मुख्यालय में हुआ

नई दिल्ली (मा.स.स.). खादी और ग्रामोद्योग आयोग के अध्यक्ष मनोज कुमार ने मुंबई स्थित केवीआईसी …