शनिवार, मई 18 2024 | 06:01:39 PM
Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / ममता, राहुल व अखिलेश सभी गजवा ए हिंद के हितैषी : अभिजात मिश्रा

ममता, राहुल व अखिलेश सभी गजवा ए हिंद के हितैषी : अभिजात मिश्रा

Follow us on:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में द केरल स्टोरी टैक्स फ्री (The Kerla Story Tax Free) हो गई है। यूपी भाजपा के सचिव अभिजात मिश्रा (Abhijat Mishra) ने मंगलवार को दावा किया कि ‘गजवा-ए-हिंद’ (Ghazwa-e-Hind) का ख्वाब देख रहे लोगों को यह फिल्म बेनकाब कर रही है। मिश्रा ने ट्विटर पर यह भी कहा कि कांग्रेस और कुछ विपक्षी नेता फिल्म को प्रतिबंधित करने के लिए आतंकवादियों से राय ले रहे थे। अभिजात मिश्रा ने ममता बनर्जी, राहुल गांधी, ओवैसी और अखिलेश यादव के साथ अतंकी का फोटो कोलॉज बनाकर उसमें लिखा शार्गिदों इन काफिरों की फिल्म को किसी तरह से बैन करवाओ।

ओवैसी के साथ लिखा- हुजूर सरकार सुन रही है न अदालत सुन रही है न, अखिलेश कह रहे हैं कि आका विरोध तो कर रहा हूं, लेकिन बुलडोजर से डर रहा हूं, राहुल कह रहे हैं कि यस सर, आई एम ट्राईंगि मॉय बेस्ट, ममता बनर्जी कह रही हैं कि आका मैंने बंगाल में फिल्म बैन कर दी है। भाजपा नेता ने अपने ट्वीट के साथ एक तस्वीर भी लगाई है, जिसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की तस्वीरें हैं, जो इस फिल्म पर किसी भी हाल में पाबंदी लगाने की वकालत करते दिख रहे हैं। मिश्रा ने दावा किया कि ‘द केरल स्टोरी’ फिल्म ‘गजवा-ए-हिंद’ (भारत के खिलाफ युद्ध) का ख्वाब देख रहे लोगों को बेनकाब कर रही है।

अदा शर्मा अभिनीत फिल्म शुक्रवार को सिनेमाघरों में रिलीज हुई, लेकिन कांग्रेस और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी समेत कुछ अन्य पार्टियों ने मुस्लिम समुदाय के प्रति नफरत फैलाने के लिए फिल्म में उनका झूठा चित्रण करने का आरोप लगाया है। मिश्रा ने पिछले शनिवार को कॉलेज की लड़कियों के लिए लखनऊ के एक सिनेमा घर में फिल्म के प्रदर्शन का आयोजन किया था। उत्तर प्रदेश सरकार ने मंगलवार को ‘द केरल स्टोरी’ को राज्य में मनोरंजन कर से मुक्त करने का आदेश दिया है। मध्य प्रदेश में इसे पहले ही कर मुक्त किया जा चुका है। “द केरल स्टोरी” की रिलीज पर रोक लगाने से इनकार करने वाले केरल उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में एक याचिका भी दायर की गई है। शीर्ष अदालत 15 मई को याचिका पर सुनवाई करेगी।

साभार : नवभारत टाइम्स

भारत : 1857 से 1957 (इतिहास पर एक दृष्टि) पुस्तक अपने घर/कार्यालय पर मंगाने के लिए आप निम्न लिंक पर क्लिक कर सकते हैं

https://www.amazon.in/dp/9392581181/

https://www.flipkart.com/bharat-1857-se-1957-itihas-par-ek-drishti/p/itmcae8defbfefaf?pid=9789392581182

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

नूडल्स खाने से पूरा परिवार अस्पताल में भर्ती, 12 साल के बच्चे की मौत

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में नूडल्स खाने से एक ही परिवार के 6 …