मंगलवार, जुलाई 16 2024 | 02:47:18 PM
Breaking News
Home / राज्य / दक्षिण-भारत / तमिलनाडु में जहरीली शराब पीने से 33 की मौत, 60 भर्ती

तमिलनाडु में जहरीली शराब पीने से 33 की मौत, 60 भर्ती

Follow us on:

चेन्नई. तमिलनाडु के कल्लाकुरिची में अवैध शराब पीने से 33 लोगों की मौत हो गई है और 60 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए। मुख्यमंत्री एमके स्टालिन और राज्यपाल आरएन रवि ने हादसे पर दुख और संवेदना व्यक्त की। कल्लाकुरिची के जिला कलेक्टर MS प्रशांत ने जिले के सरकारी अस्पताल में जाकर मरीजों से मुलाकात की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कल्लाकुरिची में मिलावटी शराब पीने से लोगों की मौत की खबर सुनकर मैं स्तब्ध और दुखी हूं। हादसे के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस घटनाक्रम को होने से रोकने में विफल रहने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है। तमिलनाडु के राज्यपाल RN रवि ने भी मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की और प्रभावित लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई, जांच के आदेश

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने एक्शन लेते हुए के. कन्नुकुट्टी (49) नामक शख्स को दबोचा है, जिससे 200 लीटर जहरीली शराब मिली। इस शराब में मेथनॉल मिला हुआ है। स्टालिन सरकार ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। जांच करने की जिम्मेदारी CB-CID को सौंपी गई है। अपने काम में लापरवाही बरतने पर कल्लाकुरिची के DM श्रवण कुमार जाटवथ का तबादला कर दिया गया है।

SP समय सिंह मीना को सस्पेंड करने के आदेश जारी हुए हैं। कल्लकुरिची जिले के पुलिसकर्मियों समेत 9 पुलिस कर्मचारी निलंबित किए गए हैं। सभी पर अपने काम में लापरवाही बरतने के आरोपी हैं। मत्रीं ईवी वेलु और सुब्रमण्यम को मदद के लिए कल्लाकुरिची भेजा गया है। MS प्रशांत अब जिले के नए कलेक्टर और राजथ चतुर्वेदी नए SP होंगे।

पैकेट वाली शराब पीने के बाद बिगड़ी तबियत

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गत 18 जून को कल्लाकुरिची जिले के करुणापुरम इलाके में दिहाड़ी मजदूरी करने वाले लोगों ने शराब के पैकेट खरीदे थे, लेकिन शराब पीने के बाद उनकी तबियत बिगड़ने लगी। किसी को उल्टियां लगीं तो कोई दस्त से परेशान हुआ। किसी के पेट में भयानक दर्द उठा। आंखों मे जलन होने से परेशान लोग भी अस्पताल पहुंचे।

देखते ही देखते लोगों ने दम तोड़ना शुरू कर दिया। 20 से ज्यादा लोगों को आनन फानन में कल्लाकुरिची मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भर्ती कराया गया। बीमार हुए करीब 18 लोगों को पुडुचेरी JIPME और 6 लोगों को सलेम रेफर किया गया, लेकिन लोगों को बचाया नहीं जा सका। इतनी संख्या में बीमार लोगों के अस्पताल पहुंचने से जिलेभर के डॉक्टरों में भी हड़कंप मच गया था।

साभार : न्यूज24

फेसबुक पेज : https://www.facebook.com/profile.php?id=61558434413602

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

कर्नाटक में बढ़ते डेंगू के मामलों को देखते हुए घोषित हो आपातकालीन स्थिति : भाजपा

बेंगलुरु. कर्नाटक में डेंगू के मामलों में रोजाना वृद्धि हो रही है। इस बीच, कर्नाटक विधानसभा …