गुरुवार, मई 23 2024 | 12:31:07 PM
Breaking News
Home / व्यापार / प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने में ईपीएफओ की अहम भूमिका : भूपेंद्र यादव

प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने में ईपीएफओ की अहम भूमिका : भूपेंद्र यादव

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). केंद्रीय श्रम एवं रोजगार, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री, भूपेंद्र यादव ने आज डॉ. अंबेडकर अंतर्राष्ट्रीय केंद्र, नई दिल्ली में आयोजित कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के 70वें स्थापना दिवस का उद्घाटन किया। उन्होंने इस अवसर पर सभी को बधाई दी और राष्ट्र निर्माण में ईपीएफओ की भूमिका और उसके राष्ट्रव्यापी अमृत महोत्सव समारोह का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होने पर बल दिया।

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री ने ईपीएफओ ​​@70- जर्नी नामक प्रदर्शनी का उद्घाटन किया, जिसमें कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ​​के 70 वर्ष के इतिहास को दर्शाया गया है। इस अवसर पर संगठन के 70 वर्षों के अस्तित्व पर ईपीएफओ ​​@70 नामक एक वृत्तचित्र (डाक्यूमेंट्री फिल्म) भी दिखाया गया जिसमें दशकों से संगठन की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला गया। केंद्रीय मंत्री द्वारा डाक विभाग के सहयोग से संगठन के 70 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में एक विशेष आवरण का विमोचन किया गया। केंद्रीय मंत्री ने ईपीएफओ विजन @2047 दस्तावेज और अगले 25 वर्षों के लिए ईपीएफओ के लिए कार्य योजना (रोडमैप) तैयार करने के लिए आयोजित चिंतन शिविर पर एक पुस्तिका भी जारी की।

आयोजन को चिह्नित करते हुए यादव ने नियोक्ताओं और कर्मचारियों के लिए स्वागत किट का शुभारंभ किया जिसमें हितधारकों तक लाभ पहुंचाने के लिए दिशा-निर्देश और सुझाव शामिल हैं। यह किट देश के दूर-दराज के क्षेत्रों में अंशधारकों के बड़े आधार को लाभान्वित करने के लिए हिंदी और अंग्रेजी के अलावा 21 स्थानीय भाषाओं में भी जारी की गई है। मंत्री ने आभासी रूप से (वर्चुअल मोड में) क्षेत्रीय कार्यालय भवन, पुणे की आधारशिला रखी। भूमि पूजन स्थानीय रूप से महेश लांडगे, विधायक, भोसरी द्वारा किया गया। उन्होंने वर्चुअल मोड ही में रांची में क्षेत्रीय कार्यालय भवन का भी उद्घाटन किया। भवन का अनावरण संजय सेठ, सांसद, रांची और नवीन जायसवाल, विधायक, हटिया ने रांची में एक स्थानीय समारोह में किया।

  • समारोह में विभिन्न कार्यालयों और प्रतिष्ठानों को भी पुरस्कारों का वितरण किया गया:-
  • सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले क्षेत्रीय कार्यालय (बड़े) के लिए भविष्य निधि पुरस्कार-2022:- सलेम
  • सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले क्षेत्रीय कार्यालय (छोटे) के लिए भविष्य निधि पुरस्कार-2022:- उडुप्पी
  • सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले जिला कार्यालय के लिए भविष्य निधि पुरस्कार-2022:- जामनगर
  • सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले दूरस्थ कार्यालय के लिए भविष्य निधि पुरस्कार-2022:- क्षेत्रीय कार्यालय, जम्मू
  • सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले क्षेत्रीय कार्यालय के लिए भविष्य निधि पुरस्कार- 2022:- पंजाब और हिमाचल
  • क्षेत्रीय कार्यालय (फील्ड ऑफिस) द्वारा अपनाए गए सर्वश्रेष्ठ अभिनव प्रथा के लिए भविष्य निधि पुरस्कार-2022:- गुवाहाटी
  • भविष्य निधि स्वच्छता पुरस्कार-2022:- नोएडा
  • शिकायत निवारण में सर्वश्रेष्ठ क्षेत्रीय कार्यालय के लिए भविष्य निधि पुरस्कार- 2022- गुरुग्राम पूर्व
  • सर्वश्रेष्ठ सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) टीम के लिए भविष्य निधि पुरस्कार- 2022 – आर एस मनोज के नेतृत्व में एमआईएस टीम, उप निदेशक, आई एस
  • ई- नामांकन के लिए सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता के लिए भविष्य निधि पुरस्कार- 2022 – मेसर्स एसजे एंड एसपी फैमिली ट्रस्ट, निजामाबाद, तेलंगाना
  • सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छूट वाले न्यास (ट्रस्ट) के लिए भविष्य निधि पुरस्कार-2022 – मेसर्स टाटा पावर कंपनी लिमिटेड, नरीमन पॉइंट, बांद्रा

केंद्रीय मंत्री ने बीते वर्षों में ईपीएफओ के विकास के प्रकार और सदस्यों की बचत के अपने विशाल कोष का प्रबंधन करने की विधियों पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने प्रधानमंत्री के श्रमेव जयते के दृष्टिकोण को प्राप्त करने में ईपीएफओ द्वारा निभाई जाने वाली भूमिका पर जोर दिया। चिंतन शिविर के पांच उद्देश्य- मिशन 10 करोड़, अनुपालन में आसानी, ईपीएफओ कर्मयोगी, संतुष्ट सदस्य और भविष्य के लिए तैयारी, भविष्य में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) द्वारा किए जाने वाले कार्यों के लिए मिशन क्षेत्रों के रूप में पहचाने गए हैं।  यादव ने उन चार श्रम संहिताओं के महत्व पर भी जोर दिया जिनमें 29 श्रम कानूनों को शामिल किया गया है। कानूनों का यह युक्तिकरण और सरलीकरण न्यायिक मुकदमों को कम करेगा और व्यापार करने में सुगमता लाएगा। नीतिगत हस्तक्षेप करने के लिए प्रधानमंत्री के पूरे सरकारी दृष्टिकोण को लागू किया जा रहा है ताकि कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाया जा सकेI

श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने ईपीएफओ के 70वें स्थापना दिवस के अवसर पर सभी का स्वागत करते हुए बधाई दी। उन्होंने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों को पुरस्कृत करने की अवधारणा की प्रशंसा की और विजेताओं को बधाई दी। उन्होंने कहा कि ईपीएफओ विजन @2047 में पहचाने गए मुद्दों के कार्यान्वयन से संगठन को देश में सामाजिक सुरक्षा के सार्वभौमिकरण की परिकल्पना को पूरा करने में मदद मिलेगी। सचिव श्रम एवं रोजगार, भारत सरकार आरती आहूजा ने इस अवसर पर पुरस्कार विजेताओं को बधाई देते हुए प्रसन्नता व्यक्त की और कहा कि यह क्षण यह देखने का अवसर भी है कि ईपीएफओ ने बीते दशकों में क्या हासिल किया है और यहां से आगे ईपीएफओ कैसे नवाचार करते हुए अपने सदस्यों की बढ़ती हुई उम्मीदों को पूरा करेगा।

अंतरर्राष्ट्रीय श्रम संगठन उत्कृष्ट कार्य (आईएलओ डिसेंट वर्क) की निदेशक डागमार वाल्टर ने इस महत्वपूर्ण अवसर पर ईपीएफओ को बधाई दी। उन्होंने महामारी के दौरान संगठन द्वारा किए गए अच्छे कार्यों और इसके सदस्यों को निर्बाध सेवाएं प्रदान करने की दिशा में इसके प्रयासों की प्रशंसा की। जैसे – जैसे भारतीय आबादी की आयु बढ़ रही है, वैसे ही आने वाले वर्षों में सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने में संगठन का महत्व और भूमिका बढ़ती जा रही है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की केन्द्रीय आयुक्त नीलम शमी राव ने ईपीएफओ के 70वें स्थापना दिवस में भाग लेने वाले सभी गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया और इस ऐतिहासिक अवसर पर सभी को बधाई दी ।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

ओरिएंटक्राफ्ट ने ऋण मुक्त स्थिति की घोषणा की, विकास के लिए झारखंड अगला ठिकाना

नई दिल्ली, दिल्ली, भारत वस्त्र निर्माण एवं निर्यात उद्योग में भारत की अग्रणी कंपनीओरिएंटक्राफ्ट लिमिटेड …