रविवार, मई 19 2024 | 02:06:36 AM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने स्वच्छता के लिए चलाया विशेष अभियान

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने स्वच्छता के लिए चलाया विशेष अभियान

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने स्वच्छता और लंबित संदर्भों के निपटान के लिए विशेष अभियान 2.0 आरंभ किया। यह अभियान मंत्रालय और उसके अधीनस्थ कार्यालयों अर्थात एनएचएआई, एनएचआईडीसीएल, आईआरसी और आईएएचई में चलाया जा रहा है। विशेष अभियान 2.0 के तहत, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, एनएचएआई और एनएचआईडीसीएल के सभी प्रक्षेत्र कार्यालयों, टोल प्लाजा और सड़क की पटरी (वे साइड) की सुविधाओं सहित लगभग 1200 स्थानों पर स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के सचिव गिरिधर अरमाने ने इस अवसर पर परिवहन भवन में इस मंत्रालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को स्वच्छता शपथ दिलाई। उन्होंने सभी अधिकारियों से अभियान के दौरान विभिन्न श्रेणियों – एमपी संदर्भ, पीएमओ संदर्भ, लोक शिकायत, संसद आश्वासन आदि के तहत लंबित संदर्भों का निपटान सुनिश्चित करने की अपील की। उन्होंने मंत्रालय और उसके सभी अधीनस्थ कार्यालयों द्वारा निर्णय लेने में प्रस्तुतीकरण के माध्‍यम (चैनल) के अधिकतम 4 स्तर के संबंध में निर्देशों का सख्‍ती से अनुपालन करने के भी निर्देश दिए। एनएचएआई और एनएचआईडीसीएल ने अभियान की शुरुआत को चिन्हित करने के लिए देश भर में अपने सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को स्वच्छता की शपथ दिलाई।

सचिव ने अधिकारियों को भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए सभी आधिकारिक कार्यों में पूर्ण सत्यनिष्ठा और अत्यधिक स्वच्छता बनाए रखने का सुझाव दिया। अधिकारियों को आम जनता की आवश्‍यकताओं के प्रति संवेदनशील होना चाहिए और उनकी शिकायतों का जल्द से जल्द समाधान करने का प्रयास करना चाहिए। सचिव ने अभियान अवधि के दौरान राष्‍ट्रीय राजमार्ग को गड्ढों से मुक्त रखने और मार्गाधिकार (आरओडब्ल्यू) की स्‍वच्‍छता के लिए विशेष प्रयास आरंभ करने के निर्देश दिए। सचिव ने कार्यालय परिसर को साफ-सुथरा रखने में हाउसकीपिंग स्टाफ के योगदान की सराहना की और उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किया। उन्होंने अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ परिवहन भवन परिसर में ‘श्रमदान’ किया। उन्होंने संपूर्ण स्वच्छता का निरीक्षण करने के लिए परिवहन भवन परिसर का दौरा भी किया।

भारत : 1857 से 1957 (इतिहास पर एक दृष्टि) पुस्तक अपने घर/कार्यालय पर मंगाने के लिए आप निम्न लिंक पर क्लिक कर सकते हैं

https://vyaparapp.in/store/Pustaknama/15

https://www.meesho.com/hindi-paperback-history-books/p/2r4nct

इस पुस्तक को ई-बुक के रूप में खरीदने हेतु कृपया निम्न लिंक पर क्लिक करें –

https://www.amazon.in/dp/B0BCH59SF8

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

किसी पागल ने परमाणु बम लाहौर पर गिराया, तो ….. : मणिशंकर अय्यर

नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव की सगर्मियों के बीच कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्तान को लेकर …