सोमवार, मई 20 2024 | 03:23:53 PM
Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार की जापान यात्रा

नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार की जापान यात्रा

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). नौसेना प्रमुख (सीएनएस) एडमिरल आर हरि कुमार दिनांक 05 से 09 नवंबर 2022 तक जापान की आधिकारिक यात्रा पर हैं, जहां वह योकोसुका में 06 नवंबर 22 को जापान मैरीटाइम सेल्फ डिफेंस फोर्स (जेएमएसडीएफ) द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय फ्लीट रिव्यू (आईएफआर) को देखेंगे जो जापान मैरीटाइम सेल्फ डिफेंस फोर्स के गठन की 70वीं वर्षगांठ मनाने के लिए आयोजित किया जा रहा है।

इस यात्रा के दौरान पश्चिमी प्रशांत नौसेना संगोष्ठी (डब्ल्यूपीएनएस) की एक पर्यवेक्षक नौसेना के नुमाइंदे के रूप में नौसेना प्रमुख दिनांक 07-08 नवंबर 2022 को योकोहामा में 18वें डब्ल्यूपीएनएस में भाग लेंगे, जिसकी मेजबानी डब्ल्यूपीएनएस के वर्तमान अध्यक्ष के रूप में जापान द्वारा की जा रही है। आईएफआर और डब्ल्यूपीएनएस के दौरान भारत और भारतीय नौसेना का प्रतिनिधित्व करने के अलावा, वह ऑस्ट्रेलिया, जापान और यूएसए की भागीदारी के साथ योकोसुका में आयोजित होने वाले अभ्यास मालाबार के 2022 संस्करण के उद्घाटन के लिए भी उपस्थित होंगे । वर्ष 1992 में शुरू होने के बाद यह वर्ष मालाबार अभ्यास की 30वीं वर्षगांठ है।

एडमिरल आर हरि कुमार आईएफआर, डब्ल्यूपीएनएस और मालाबार में भाग लेने वाले करीब 30 देशों के अपने समकक्षों और प्रतिनिधिमंडल के अन्य प्रमुखों के साथ भी बातचीत करेंगे। भारतीय नौसेना के जहाज शिवालिक और कामोर्ता भी आईएफआर और अभ्यास मालाबार – 2022 में भाग लेने के लिए दिनांक 02 नवंबर 2022 को जापान के योकोसुका पहुंचे। इन बहु-राष्ट्रीय कार्यक्रमों में भारतीय नौसेना के स्वदेशनिर्मित इन जहाजों की उपस्थिति एक बड़े अंतर्राष्ट्रीय आयोजन के दौरान भारतीय शिपयार्डों की जहाज निर्माण क्षमताओं को प्रदर्शित करने का अवसर होगी। नौसेना प्रमुख की जापान यात्रा जापान के साथ उच्च स्तर के द्विपक्षीय रक्षा संबंधों के साथ-साथ बहुपक्षीय गतिविधियों में भारत के सक्रिय समर्थन और भागीदारी का प्रतीक है।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

विधेयक रोकने के लिए ताइवान की संसद में सांसदों के बीच चले लात-घूंसे

ताइपे. संसद में सांसदों को बहस करते हुए आपने जरूर देखा होगा। कई बार संसद …