सोमवार, मई 20 2024 | 03:29:17 PM
Breaking News
Home / राज्य / दिल्ली / अमित शाह ने तेहखण्ड वेस्ट टू एनर्जी प्लांट का किया उद्घाटन

अमित शाह ने तेहखण्ड वेस्ट टू एनर्जी प्लांट का किया उद्घाटन

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में दिल्ली नगर निगम के कूड़े से बिजली उत्पादन करने वाले तेहखण्ड वेस्ट टू एनर्जी प्लांट का उद्घाटन किया। इस अवसर पर दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। अपने संबोधन में केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र और पूरी राष्ट्रीय राजधानी के लिए बहुत बड़ा अवसर है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने राजधानी को स्वच्छता के माध्यम से कूड़ामुक्त करने का संकल्प लिया है, इस दिशा में हम कुछ और कदम आगे बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि इस संयंत्र के शुरू होने के बाद दिल्ली में प्रतिदिन लगभग सात हज़ार मीट्रिक टन कूड़े के निस्तारण की क्षमता हो गई है। शाह ने कहा कि शुरू हो रहे इस संयंत्र से प्रतिदिन 2 हज़ार मीट्रिक टन कचरा अलग करके, जलाया जाएगा और हरित तरीके से इसका उपयोग किया जाएगा। इसके साथ ही इससे लगभग 25 मेगावॉट ग्रीन एनर्जी का उत्पादन भी होगा।

अमित शाह ने कहा कि अगस्त, 2025 तक नरेला में 3 हज़ार मीट्रिक टन वेस्ट टू एनर्जी प्लांट के निर्माण की शुरूआत हो चुकी है और उसके पूरा होने के साथ ही दिल्ली में प्रतिदिन के कचरे के निस्तारण की व्यवस्था हो जाएगी। उन्होंने कहा कि इस संयंत्र के अलावा ओखला में 300 मीट्रिक टन का बायो सीएनजी प्लांट, 200 मीट्रिक टन प्रतिदिन वाले 3 बायो गैस प्लांट और 175 मीट्रिक टन प्रतिदिन क्षमता वाली 8 मेटल रिकवरी सुविधाएं शुरू होने वाले हैं। शाह ने कहा कि पूरी दिल्ली को कूड़ारहित बनाने का जो काम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने दिल्ली नगर निगम को दिया था, वो जल्द ही पूरा हो जाएगा।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि शहरों में व्यवस्था, सुशासन लाने और शहरों की सभी समस्याओं के निराकरण के लिए प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा 2014 में बनाई गई शहरी विकास नीति के कारण पूरे भारत के शहर बदल रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने तीन हिस्सों में शहरी विकास नीति को बांटा है। पहला, शहरों को आधुनिक बनाने के लिए स्मार्ट सिटी मिशन, ई-गवर्नेंस, इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सिस्टम और सीसीटीवी कैमरों का जाल खड़ा करना। दूसरा, शहरों में भौतिक बुनियादी ढांचे का कायाकल्प करके उन्हें आधुनिक बनाने के लिए अमृत मिशन, रेरा कानून, 25 से अधिक शहरों में मेट्रो का नेटवर्क खड़ा करना और इलेक्ट्रिक बसें देना। तीसरा, शहरों को स्वच्छ बनाना जिससे शहरों में रहने वाले सभी लोगों, विशेषकर झुग्गी-झोंपड़ी में रहने वालों, के स्वास्थ्य को इसका फायदा पहुंचे। इसके लिए शौचालय निर्माण, वेस्ट टू क्लीन एनर्जी के प्लांट तैयार करने, सोलर रूफटॉप और एलईडी लाइट्स के माध्यम से हम आगे बढ़ रहे हैं।इसके साथ-साथ प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना, पीएम स्वनिधि योजना और डिजिटल लेनदेन को भी पूरा प्रोत्साहन दिया जा रहा है।

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने 2014 में 15 अगस्त के दिन लाल किले की प्राचीर से स्वच्छता का जो अभियान शुरू किया था, 8 सालों में उसके अच्छे परिणाम देशभर में मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कई कचरे के पहाड़ अब धीरे-धीरे कम होते जा रहे हैं, कचरे के निस्तारण के लिए अनेक संयंत्र लगाए गए हैं, गटर व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त किया गया है और कचरे के कलेक्शन के लिए भी एक साइंटिफिक नेटवर्क कश्मीर से कन्याकुमारी और असम से गुजरात तक हर शहर और गांव में बनाने की शुरूआत की गई है। उन्होंने कहा कि आज़ादी से पहले महात्मा गांधी ने भारत को स्वच्छता का संदेश दिया था लेकिन 70 सालों तक सभी लोगों ने महात्मा के इस संदेश को भुला दिया। लेकिन 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी जी ने स्वच्छता के सन्देश को फिर से जमीन पर उतारा है। उन्होंने कहा कि ये स्वच्छता अभियान का ही नतीजा है कि कूड़ा फेंकने पर बच्चा भी उसे डस्टबिन में डालने के लिए आपसे कहेगा। शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी ने आने वाली पीढ़ी में स्वच्छता का संस्कार डालने का एक सबसे बड़ा काम किया है। उन्होंने कहा कि जब तक स्वच्छता जनांदोलन नहीं बनती, तब तक इसका परिणाम नहीं मिल सकता है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जी द्वारा बनाये गए इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ दिल्ली में एमसीडी एक ऐसा इकोसिस्टम खड़ा करने में सफल होगी जिससे दिल्ली दुनिया में सर्वश्रेष्ठ राजधानी बन जायेगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार मानती है कि विज्ञापन से विकास होता है और इंटरव्यू से जनता भ्रमित होती है, ये दिल्ली को आप-निर्भर बनाना चाहते हैं और हम दिल्ली को आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं। शाह ने कहा कि दिल्ली सरकार ने तीनों नगर निगमों के साथ अन्याय और दोयम दर्जे का व्यवहार कर निगम का करोड़ों रूपये रोकने का काम किया, लेकिन केंद्र में मोदी सरकार है हम दिल्ली के विकास के काम रुकने नहीं देंगे।  अमित शाह ने कहा कि एमसीडी ने दिल्ली में कई फ्लाईओवर,रोड,टनल,वेस्ट टू एनर्जी प्लांट, 150 टनस्क्रैप से पार्कबनाकर कचरे को कंचन में तब्दील किया है। उन्होंने कहा कि एलईडी की सोलर पावर के लिए भी मोदी सरकार द्वारा सब्सिडी दी जा रही है। शाह ने कहा कि ये दिल्ली का जनता को तय करना है कि उसे विज्ञापन की राजनीति चाहिए या विकास की, प्रचार की राजनीति चाहिए या परिवर्तन की, भ्रष्टाचार की राजनीति चाहिए या पारदर्शिता की। केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि दिल्ली को स्वच्छ बनाने की दिशा में एक बहुत बड़ा कदम उठाया गया है और 2025 से पहले दिल्ली के दैनिक कचरे के निस्तारण की व्यवस्था एमसीडी के माध्यम से हो जाएगी जिससे ये कचरे के पहाड़ नजर नहीं आएंगे और दिल्ली और सुंदर बनेगी।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

क्या कोई किसी को पीटते हुए बनता है वीडियो, जांच से आएगा सच सामने : स्वाति मालीवाल

नई दिल्ली. सीएम अरविंद केजरीवाल के आवास से 13 मई का वीडियो सामने आने पर …