शुक्रवार , अप्रेल 12 2024 | 04:46:21 PM
Breaking News
Home / व्यापार / बैंक ऑफ बड़ौदा देश भर में लगाएगा 6000 यूपीआई एटीएम, शुरू किया काम

बैंक ऑफ बड़ौदा देश भर में लगाएगा 6000 यूपीआई एटीएम, शुरू किया काम

Follow us on:

मुंबई. अब अगर आपको एटीएम से पैसा निकालना है तो इसके लिए कार्ड की जरूरत नहीं होगा. अब आप बिना कार्ड के भी एटीएम (UPI ATM) से पैसा निकाल सकते हैं. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) ने देशभर में यूपीआई एटीएम की सुविधा को शुरू कर दिया है. बैंक की तरफ से इस बारे में जानकारी दी गई है.

लगाए जा रहे हैं 6000 एटीएम 

बैंक ऑफ बड़ौदा ने बताया है कि करीब 6,000 यूपीआई एटीएम की सुविधा शुरू की जा रही है, जिसके जरिए आप बिना कार्ड के पैसा निकाल सकते हैं. इसके लिए आपके फोन में यूपीआई ऐप होना जरूरी है.

NPCI ने लगाया देश का पहला UPI ATM
बीओबी की ओर से जारी बयान के मुताबिक, वह भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) के समन्वय से एनसीआर कॉरपोरेशन द्वारा संचालित यूपीआई एटीएम शुरू करने वाला देश का पहला सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है.

APP से करना होगा स्कैन
बैंक ने कहा कि उनके व अन्य बैंकों के ग्राहक यूपीआई-सक्षम मोबाइल ऐप के जरिए अपने डेबिट कार्ड का उपयोग किए बिना बैंक ऑफ बड़ौदा यूपीआई एटीएम से नकदी निकाल सकते हैं.

UPI से जुड़े अकाउंट से निकाल सकते हैं पैसा
बयान के मुताबिक, इंटरऑपरेबल कार्डलेस कैश विड्रॉल (ICCW) तकनीक के जरिए यूपीआई एटीएम क्यूआर-आधारित निर्बाध नकदी निकासी संभव बनाता है, जिससे नकदी निकालने के लिए कार्ड की जरूरत नहीं होती है. UPI ATM सुविधा का एक बड़ा लाभ यह भी है कि इससे ग्राहक यूपीआई से जुड़े विभिन्न खातों से नकदी निकाल सकते हैं.

UPI एटीएम से कैसे निकाल सकते हैं पैसा-
>> आपको सबसे पहले यह तय करना होगा कि कितना कैश निकालना है.
>> इसके बाद में आपकी द्वारा चुनी गई राशि के हिसाब से आपको एक QR code आपकी स्क्रीन पर दिखेगा
>> इस QR code को आपको अपने यूपीआई ऐप के जरिए स्कैन करना होगा.
>> इसके बाद में आपको अपना यूपीआई पिन एंटर करना होगा.
>> अब आपका ट्रांजेक्शन सक्सेसफुल हो जाएगा और आपको कैश मिल जाएगा.

साभार : जी न्यूज़

भारत : 1857 से 1957 (इतिहास पर एक दृष्टि) पुस्तक अपने घर/कार्यालय पर मंगाने के लिए आप निम्न लिंक पर क्लिक कर सकते हैं

https://www.amazon.in/dp/9392581181/

https://www.flipkart.com/bharat-1857-se-1957-itihas-par-ek-drishti/p/itmcae8defbfefaf?pid=9789392581182

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

वकीलों ने एलन मस्क से मांगी छह अरब डॉलर की फीस

वाशिंगटन. इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क के बहुत ज्यादा माने गए …