मंगलवार, जून 25 2024 | 11:45:06 AM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / दावा : इंफाल एयरपोर्ट के अधिकारी ने देखा यूएफओ, दो राफेल से चलाया गया सर्च ऑपरेशन

दावा : इंफाल एयरपोर्ट के अधिकारी ने देखा यूएफओ, दो राफेल से चलाया गया सर्च ऑपरेशन

Follow us on:

इंफाल. बीते दिन यानी 19 नंवबर को मणिपुर की राजधानी इम्फाल के एयरपोर्ट पर यूएफओ दिखाई दिया। इसे CISF के जवानों ने देखा था। जिसके बाद हवाई अड्डे से नागरिक विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी गई। UFO को देखते ही भारतीय वायुसेना ने अपने दो राफेल फाइटर जेट्स को उसे खोजने के लिए पीछे लगा दिए। इस घटना पर इंडिया टुडे से भारतीय वायुसेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बात की है और कहा है कि इम्फाल एयरपोर्ट से सिविलियन ऑफिसर की तरफ से UFO देखे जाने का संदेश मिला था।

UFO देखे जाने के तत्काल बाद हाशीमारा एयरफोर्स बेस से एक राफेल फाइटर जेट को उसका पीछा करने के लिए उड़ाया गया ताकि मामले की जानकारी ली जा सके। हालांकि, राफेल के राडार पर कोई अनजान विमान या यान नहीं दिखा। उन्होंने आगे बताया कि, पायलट ने आसमान में कोई ऐसी संदिग्ध चीज नहीं देखी। UFO को लेकर अधिकारी ने क्या बताया? वरिष्ठ अधिकारी ने आगे कहा कि, इस काम में दो फाइटर विमान लगे थे। जैसे ही पहला फाइटर जेट वापस लौटा। उसके ठीक बाद डबल चेक करने के लिए दूसरा राफेल भेजा गया लेकिन उस इलाके और उसके आसपास कोई भी UFO या एलियनशिप नजर नहीं आए। लेकिन भारतीय वायु सेना के पूर्वी कमांड ने तत्काल अपना एयर डिफेंस रेसपॉन्स मैकेनिज्म शुरू कर दिया है।

पूर्वी कमांड ने एक्स पर बताया कि, वायुसेना ने एयर डिफेंस रेसपॉन्स मैकेनिज्म को एक्टीवेट रखा है क्योंकि इम्फाल एयरपोर्ट से इनपुट्स आए थे। जिसमें कहा गया था कि 4 बजे के करीब एक UFO एयरफील्ड से पश्चिम दिशा की ओर जाता देखा गया। लेकिन भारतीय वायुसेना ने सर्च ऑपरेशन चला कर देखा तो वहां ऐसा कुछ नहीं देखा जिससे ये साबित सके कि यूएफओ आया हो। इस घटना के बाद कई विमानों का समय बदला गया। तीन राज्यों और एक देश से मणिपुर की लगती है सीमा इस घटना के बारे में तत्काल वायुसेना को बताया गया था। जिसका कमांड शिलॉन्ग में है। पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर की सीमा नागालैंड, मिजोरम और असम से लगता है। इसके अलावा उसकी सीमा पूर्व की तरफ म्यांमार से जुड़ती है।

साभार : दैनिक भास्कर

भारत : 1857 से 1957 (इतिहास पर एक दृष्टि) पुस्तक अपने घर/कार्यालय पर मंगाने के लिए आप निम्न लिंक पर क्लिक कर सकते हैं

https://www।amazon।in/dp/9392581181/

https://www।flipkart।com/bharat-1857-se-1957-itihas-par-ek-drishti/p/itmcae8defbfefaf?pid=9789392581182

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

नीट परीक्षा मामले में झारखंड के देवघर से गिरफ्तार हुए 5 लोग

रांची. देश में नीट पेपर लीक केस को लेकर बवाल मचा हुआ है. इस बीच …