शनिवार, जून 22 2024 | 08:47:08 AM
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / माल में पड़ा छापा, देह व्यापार में लिप्त पाई गईं 60 लड़कियां

माल में पड़ा छापा, देह व्यापार में लिप्त पाई गईं 60 लड़कियां

Follow us on:

गाजियाबाद. लिंक रोड थाना क्षेत्र के पैसेफिक माल में आठ स्पा की आड़ में देह व्यापार का भंड़ाफोड़ बुधवार शाम को पुलिस ने किया। पुलिस ने स्पा सेंटर से 60 युवतियां और 39 युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मौके से पेमेंट करने की मशीन, डीवीआर और आपत्तिजनक सामान बरामद किया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस के मुताबिक, महाराजपुर पुलिस चौकी के पास पैसेफिक माल में स्पा सेंटर की आड़ में देह व्यापार होने की पुलिस को लंबे समय से शिकायत मिल रही थी।

पुलिस उपायुक्त ट्रांस हिंडन ने इसपर कार्रवाई की योजना बनाई। बुधवार शाम को पुलिस लाइन से और डीसीपी ट्रांस हिंडन की टीम लेकर सहायक पुलिस आयुक्त साहिबाबाद भास्कर वर्मा पहुंचे।भारी संख्या में पुलिस बल देखकर आसपास हड़कंप मच गया। पुलिस कर्मियों ने माल में चल रहे आठ स्पा सेंटर में छापा मारा। जहां देह व्यापार होता पाया गया। अंदर युवक और युवतियां आपत्तिजनक स्थिति में पाए गए। महिला पुलिस ने सभी युवतियों को पकड़ा। पुलिसकर्मी सभी को पुलिस की बस में लेकर लिंक रोड थाने पहुंचे। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि आठ स्पा सेंटर में देह व्यापार चलाता मिला। मौके से 60 युवतियां और 39 युवक पकड़े गए हैं।

पकड़े गए लोगों में पुलिस जानकारी कर रही है कि कितने संचालक हैं, कितने कर्मचारी और ग्राहक हैं। सभी संचालक और पकड़े गए युवक-युवतियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। पुलिस की जांच में सामने आया है कि स्पा सेंटर में ग्राहकों को अंदर जाने के बाद पैकेज बताए जाते थे। वहां पर तीन हजार रुपये से पांच हजार रुपये तक का पैकेज था। पैकेज के बाद ग्राहक के पसंद आने पर वह भुगतान कराकर आधे से एक घंटे के लिए भेज देते थे।

पुलिस की जांच में आया है कि दिल्ली से सटे बार्डर पर स्थित स्पा सेंटर में स्थानीय के साथ साथ दूसरे जिले और राज्य के लोग भी आते थे। पकड़े गए लोगों में दिल्ली, नोएडा, हरियाणा, गाजियाबाद के लोग शामिल हैं। पुलिस सभी संचालक और कर्मचारियों से जानकारी कर रही है।पुलिस उपायुक्त ट्रांस हिंडन विवेक चंद यादव ने बताया कि इतनी बड़ी संख्या में स्पा की आड़ में देह व्यापार चलता मिला है। इसमें संबंधित पुलिस कर्मियों की विभागीय जांच कराई जा रही है। जो भी दोषी पाया जाता है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

साभार : दैनिक जागरण

भारत : 1857 से 1957 (इतिहास पर एक दृष्टि) पुस्तक अपने घर/कार्यालय पर मंगाने के लिए आप निम्न लिंक पर क्लिक कर सकते हैं

https://www.amazon.in/dp/9392581181/

https://www.flipkart.com/bharat-1857-se-1957-itihas-par-ek-drishti/p/itmcae8defbfefaf?pid=9789392581182

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

अकबरनगर से सफलतापूर्वक पूरी तरह हटाये गए 1200 अवैध निर्माण

लखनऊ. शहर का अकबरनगर अब इतिहास के पन्नों में दफन हो गया. कुकरैल नदी की …