रविवार, जून 16 2024 | 02:20:44 AM
Breaking News
Home / राज्य / पूर्वोत्तर भारत / उग्रवादियों ने मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के काफिले पर किया हमला

उग्रवादियों ने मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के काफिले पर किया हमला

Follow us on:

इम्फाल. उग्रवादियों ने मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के सुरक्षा काफिले पर कांगपोकपी जिले में घात लगाकर सोमवार (10 जून, 2024) को हमला कर दिया. पुलिस के बताया कि इसमें एक जवान घायल हो गए हैं. पुलिस ने कहा कि सीएम एन बीरेन सिंह का सुरक्षा काफिला मणिपुर के हिंसा प्रभावित जिरीबाम जिले जा रहा था, लेकिन इस दौरान अचानक कई राउंड की गोलीबारी कर दी गई. इसको देखते हुए सुरक्षाबलों ने तुरंत जवाबी कार्रवाई की है. कोटलेन गांव के पास फायरिंग अब भी जारी है.

एक अधिकारी ने कहा, ”मुख्यमंत्री बीरेन सिंह अभी दिल्ली से मणिपुर के इंफाल नहीं पहुंचे हैं. वह जिले में स्थिति का जायजा लेने के लिए जिरीबाम जाने की योजना बना रहे थे.” दरअसल, उग्रवादियों ने जिरीबाम में दो पुलिस चौकियों, वन विभाग के ऑफिस और 50 से ज्यादा मकानों में आग लगा दी थी

जिरीबाम में तनाव जारी 
पुलिस ने कहा कि मणिपुर के जिरीबाम जिले में स्थिति तनावपूर्ण है, लेकिन नियंत्रण में है. शनिवार (8 जून, 2024) को हुई घटना के बाद प्रभावित इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि लमताई खुनौ, डिबोंग खुनौ, नुनखाल और बेगरा गांवों में 70 से अधिक मकानों में आग लगा दी गई.

मणिपुर के जिरीबाम में संदिग्ध उग्रवादियों के एक 59 वर्षीय व्यक्ति की हत्या के बाद हिंसा भड़क उठी थी. एक अधिकारी ने बताया था कि सोइबम सरतकुमार सिंह नाम का व्यक्ति छह ​​जून को अपने खेत जाने के बाद लापता हो गया था. उन्होंने कहा कि बाद में उसका शव मिला, जिस पर किसी नुकीली चीज से किए गए घाव के निशान थे. मई में पिछले साल मई से जारी जातीय हिंसा में 200 से अधिक लोगों की मौत हो गई है और हजारों लोग बेघर हो गए हैं.

साभार : एबीपी न्यूज़

फेसबुक पेज : https://www.facebook.com/profile.php?id=61558434413602

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

बारिश के चलते खदान में दबने से 10 लोगों की हुई मौत, कई अभी भी फंसे

आइजोल. शहर के बाहरी इलाके में स्थित पत्थर की एक खदान ढह जाने से 10 लोगों …